195+ प्रसिद्ध अनमोल विचार जो जीवन बदलने के लिए प्रेरित कर दे

Anmol Vichar in HIndi

अनमोल विचार: इन्सान चाहे कोई भी हो पर सफलता उसे अपने कर्म से ही मिलता है जिसमे सबसे ज्यादा भागीदारी उसके वचन का होता है. मनुष्य के सुविचार, दुनियाँ के सभी खुशियाँ दे सकती है. इसलिए भागवान श्री कृष्ण कहते है इन्सान का वचन उसका सबसे बड़ा हथियार है अतः विचार कर के बोले एवं बोलने से पहले कम से कम 10 पुनः विचार करे.

किसी भी कार्य को सफलतापूर्वक करने के लिए सहनशीलता, शाहस और उपयुक्त समय का संगम होना आवश्यक होता है, इसलिए आवश्यक है खुद को उस कार्य के योग्य बनाने से पहले उस कार्य को करना शुरू कर कर दे. हो सकता है वह सही ना पर आप तजुर्बा तो हासिल कर लेंगे जो बाद आपको शक्ति प्रदान करेगा.

प्रेरक और अनमोल विचन कठिन श्रम से प्राप्त होता है जिसे आप भी अपने संघ्रालय में एकत्रित कर सकते है अगर आपने इसे कठिन संघर्ष से प्राप्त किए हो. आज आपके सामने दुनियां के सर्वश्रेष्ठ अनमोल वचन/सुविचार (anmol vachan in Hindi) लाए है जो जीवन को एक नया मोड़ देने में मदद करता है.

प्रसिद्ध विद्वानों के महान अनमोल विचार/वचन

anmol vachan

1. जिसके पास उम्मीद है, वह हार कर भी नहीं हारता!

अज्ञात

2. श्रेष्ठ होना कोई कार्य नही बल्कि यह हमारी एक आदत है जिसे हम बार बार करते है!

अरस्तु 

3. विजेता बोलते हैं कि मुझे कुछ करना चाहिए, जबकि हारने वाले बोलते हैं कि कुछ होना चाहिए!

शिव खेरा

4. क्रोध हमेशा मनुष्य को तब आता है जब वह अपने आप को कमज़ोर और हारा हुआ पाता है!

अज्ञात

5. मैं हर कदम पर हारा हूँ, पर जन्मा केवल जीत के लिए हूँ!

एमर्सन

6. अब तक की सबसे बड़ी खोज यह हैं कि व्यक्ति महज अपना दृष्टिकोण बदल कर अपना भविष्य बदल सकता हैं!

स्वामी विविकानंद जी

7. ज़िन्दगी में मनुष्य के आँखे बन्द करने से कभी मुसीबत नही टला करती है, बल्कि उस मुसीबत का सामना करने से मनुष्य की आँखे खुला करती हैं!

अज्ञात

8. उस मनुष्य की ताकत का कोई मुकाबला नही कर सकता जिसके पास सब्र की ताकत है!

महात्मा गांधीजी

9. अवसर सूर्य उदय की तरह होते है यदि आप ज्यादा देर प्रतीक्षा करेंगे तो आप उन्हें गवा देंगे!

अज्ञात

10. बड़ा सोचो, जल्दी सोचो, आगे की सोचो क्योंकि विचारों पर किसी का एकाधिकार नहीं है! 

धीरुभाई अम्बानी

11. मैं कर सकता हूँ, यह विश्वाश है. केवल मैं ही कर सकता हूँ, यह अंधविश्वास है!

अज्ञात

12. बिना विश्वास के कोई काम हो ही नहीं सकता!

नारायणदास

13. उन सभी कारणों को भूल जाए कि कोई कार्य नहीं होगा, आपको केवल एक अच्छा कारण खोजना है कि यह कार्य सफल होगा!

डॉ. राबर्ट

14. जब भी कोई हंसने का अवसर मिले तो, “हंसे” यह एक सुलभ दवा है!

लार्ड ब्रायन

इसे भी पढ़े,

शिक्षा पर जीवन पर अनमोल विचार

शिक्षा पर विचार

पढ़ाई पर सुविचार

समय पर सर्वश्रेष्ठ सुविचार

15. लंबी जिंदगी का महत्व नहीं है, जितना महत्व इसकी गहनता का है!

राल्फ वाल्डो एमर्सन

16. अपने सपनों को साकार करने का सर्वश्रेष्ठ तरीका है कि आप जाग जाएं!

पॉल वैलेरी

17. सफलता हमेशा के लिए नहीं होती, विफलता कभी घातक नहीं होती यह तो लगे रहने की प्रवृत्ति हैं जो मायने रखती है!

विंस्टन चर्चिल

18. जब तक तुम स्वयं पर विश्वाश नहीं करते, परमात्मा में विश्वास कर ही नहीं सकते!

विवेकानंद

19. मित्रता आनंद को दोगुना और दुख को आधा कर देती है!

मिस्र कि कहावत

20. धोखा देने में भले ही बल हो, लेकिन प्यार वो बल है जिसमे आज भी हल है!

मुहावरा

21. यदि हम समाधान का हिस्सा नहीं हैं तो इसका मतलब यही है की हम खुद समस्या हैं!

कहावत

22. एक पल में मान लेते है कि क़िस्मत में लिखे फ़ैसले बदला नहीं करते, लेकिन आप फ़ैसले तो लीजिए क्या पता क़िस्मत ही बदल जाए! 

आर्यभट्ट

23. प्राण देकर भी मित्र के प्राण की रक्षा करनी चाहिए! 

बाणभट्ट

24. अगर व्यक्ति अपनी पूरी लग्न के साथ कोई भी काम करता है, तब उसे कभी हार का मुँह देखना नही पड़ता है!

अज्ञात

25. हर मनुष्य को ये याद रखना चाहिये, जब तक हम खुद पर विश्वास नही करेंगे, तब तक हम अपना सम्मान नही कर सकते!

कहावत

26. जो काम पड़ने पर सहायक होता है, वही मित्र है!

दीर्घनिकाय

27. मनुष्य का असली चरित्र तब सामने आता है, जब वो नशे में होता है फिर नशा चाहे धन का हो, पद का हो, रूप का हो, या शराब का!

महाभारत

28. अभागों के मित्र नहीं होते!

एमर्सन

29. ज़िंदगी छोटी नहीं होती, बस हम ही इसे देरी से जीना शुरू करते है!

अज्ञात

30. मित्र को प्रकृति की उत्कृष्ट कृति माना जा सकता है!

अमरसन 

31. अभी तो असली मंज़िल पाना बाक़ी है अभी तो इरादों का इम्तहान बाक़ी है अभी तो तोली है मुट्ठी भर ज़मीन, अभी तो तोलना आसमान बाक़ी है!

आचार्य

32. लोहे के गर्म होने का इन्तजार मत करो बल्कि अपनी तपन द्वारा इसे गर्म बनाओ यानि समय का इन्तजार मत करो बल्कि ऐसी कोशिश करो की समय आपके अनुकूल हो जाये!

विलियम बी स्प्रेग

33. किसी को अपना बनाने के लिए हमारी सारी ख़ूबियाँ भी कम पड़ जाती हैं, जबकि किसी को खोने के लिए एक कमी ही काफी है!

अज्ञात

34. मिलने पर मित्र का आदर करो, पीठ पीछे प्रशंसा करो और आवश्यकता के समय उसकी मदत करो!

जातक कथा

35. सभी गलत कार्य मन से उपजते हैं। अगर मन परिवर्तित हो जाये तो क्या गलत कार्य ठहर सकता है!

महात्मा बुद्ध

36. मित्रों का चुनाव सावधानी से करें क्योंकि हमारे व्यक्तित्व की झलक हमारे उन मित्रों से भी मिलती हैं जिनकी संगत से हम दूर रहते हैं!

कहावत

37. एक बुद्धिमान व्यक्ति के प्रश्न में ही आधा उत्तर छिपा रहता है!

सोलोमन इब्न गेबिरोल

38. वो लोग अक्सर इस दुनिया में अकेले रह जाते है जो ख़ुद से ज़्यादा दूसरों की फ़िक्र करते है!

प्रेरणा

39. अभिव्यक्ति की कुशल शक्ति ही तो कला है!

मैथिलीशरण गुप्त

40. बहुत कुछ सोचना पड़ता है मुँह खोलने से पहले क्योंकि दुनिया अब दिल से नहीं दिमाग़ से रिश्ते निभाती है!

अज्ञात

41. कला का सत्य जीवन की परिधि में सौंदर्य के माध्यम द्वारा व्यक्त अखंड सत्य है!

महादेवी वर्मा

42. कला प्रकृति की सहायता करती है और अनुभव कला की!

टामस फुलर

43. महान लोगों को हमेशा ही सामान्य मन से हिंसक विरोध का सामना करना पड़ता है!

अल्बर्ट आइंस्टीन

44. पिता की सेवा अथवा उनकी आज्ञा का पालन करने से बढ़कर और कोई धर्माचरण नहीं है!

पुराण

45. पिता ही महान देवता है!

अज्ञात

46. हम अपने माता-पिता नहीं चुन सकते, परंतु हम माता पिता का चयन होते हैं!

अज्ञात

47. पहले आपको खुद बदलना होगा, जैसा की आप दुनिया को देखना चाहते है!

महात्मा गाँधी

48. चिड़चिड़ेपन को हमें हीनता की भावना का लक्षण समझना चाहिए!

एल्फ्रेड एडलर

49. आप जीवन में जो कुछ भी चाहते है वे प्राप्त कर सकते है बस आप दुसरे लोगो की मदद करना शुरू कर दे!

जिग जिगलर

50. ठोकरें खाऊँगा पर शान से चलूँगा, खुले आसमान के नीचे रहता हु सीना तान के चलूँगा मुश्किलें तो आती रहेगी ज़िंदगी में लड़ूँगा हर मुसीबत से मैं ये ही ठान के चलूँगा

कविता

51. कोई भी व्यक्ति तुम्हें बिना तुम्हारी सहमति के हीनता का अनुभव नहीं करा सकता!

ऐना एलेना रूज़बेल्ट

52. अनुशासन परिष्कार की अग्नि है, जिससे प्रतिभा योग्यता बन जाती है!

अज्ञात

53. जब सोच को बीमारी लग जाए तो इंसान होश में आकर भी बेहोश ही रहता है!

रामधारी सिंह दिनकर

54. जो भी आप अपने जीवन में करते हैं, एक दिन वह जरुर खत्म हो जायेगा लेकिन सबसे महत्वपूर्ण यह है की आप कुछ करते तो है!

महात्मा गाँधी

55. सोच अच्छी होनी चाहिए क्योंकि नज़र का इलाज तो मुनकींन है पर नज़रिए का नहीं!

अज्ञात

56. जो आत्म अनुशासन नहीं रख सकता, वह दूसरों को अनुशासन का पाठ कैसे पढ़ा सकता है!

सूत्रकृतांग

57. अच्छा वक़्त देखने के लिए बुरे वक़्त से लड़ना पड़ता है!

सूत्रकृतांग

58. जो बात आप आमने सामने नहीं कर पाते, वह पत्र द्वारा आसानी से सभ्य शब्दों में कही जा सकती है!

अज्ञात

59. कोई विश्वास तोड़े तो दिल से उसका धन्यवाद करो क्योंकि वही लोग सिखाते है कि विश्वास सोच समझ कर करो!

ब्रिश लीन

60. मेरे विचार से विद्धवानो के पत्र मानव के समस्त कथनो से श्रेष्ठ हैं!

फ्रांसिस बेकन

61. अगर लगने लगे कि लक्ष्य हासिल नहीं हो पाएगा तो लक्ष्य नहीं अपने प्रयासों को बदले!

अज्ञात

62. पत्र लिखना भी एक कला है!

महात्मा गांधी

63. नफ़रत भी एक अजीब सा रिश्ता है जिससे हो जाती है वो सक्श हमेशा दिल और दिमाग़ में रहता है!

अज्ञात

64. खत निजी अखबार है घर का!

गिरिजाकुमार माथुर

65. ढूंढ़ना है तो ख़्याल करने वाला ढूँढो क्योंकि आपका इस्तेमाल करने वाले तो ख़ुद आपको ढूँढ लेंगे!

अज्ञात

66. सस्ते में लूट लेती है ये दुनिया उन्हें, जिन्हें ख़ुद की क़ीमत का अंदाज़ा नहीं होता!

कबीर दास

67. इच्छा सभी उपलब्धियों का प्रारंभिक बिंदु है, न कि एक आशा है, न कि इच्छा, बल्कि एक गहरी धड़कन वाली इच्छा जो सब कुछ से परे है!

नेपोलियन हिल

68. अगर समय किसी का इंतज़ार नहीं करता तो आप सही समय का इंतज़ार क्यों करते हो जो समय चल रहा है वही सबसे बेहतर समय है!

अज्ञात

69. खेलो, ताकि तुम गंभीर बन सको!

मुहावरा

70. ज़िंदगी की दौड़ में जो लोग आपको दौड़कर नहीं हरा पाते, वही आपको तोड़कर हराने की कोशिश करते है!

गिता

 71. खेल में हम प्रकट कर देते हैं की हम किस प्रकार के लोग हैं!

ओविड

72. इतने कमज़ोर मत बनो कि कोई आपको तोड़ सके बल्कि इतना मज़बूत बनो कि आपको तोड़ने वाला ख़ुद ही टूट जाए!  

चाणक्य

73. तुम्हारा व्यव्हार ही है जो हमारी छवि दूसरों के मन में बनता है. इसके जरिये हम दुश्मनों को भी अपना बना सकते हैं!

रोमन रोलां

74. कभी तानो में कटेगी, कभी तारीफ़ों में कटेगी, यह ज़िंदगी है हर पल में थोड़ी थोड़ी घटेगी!

प्रेरक कविता

75. देशभक्त जननी की सच्ची संतान हैं!

जयशंकर प्रसाद

76. किसी को परखने की जिद्द छोड़कर समझने की कोशिश करो, अदब सीखना है तो क़लम से सीखो जब भी चलती है सर जुखाकर चलती है!

कबीरदास

77. खून का वह आखिरी कतरा, जो वतन की हिफाज़त में गिरे, दुनिया की सबसे अनमोल चीज़ है!

प्रेमचंद

78. प्रयत्न करने से कभी ना चूके, हिम्मत नही तो पहचान नही, विरोधी नही तो प्रगति नही 

सत गुरु

79. प्राण क्या है देशहित के लिए, देश खोकर हम जिए तो क्या जिए!

कामताप्रसाद गुरु

80. पत्थरों के जुड़ने से घर बनते है और दिलो के जुड़ने से घर आबाद होते है!

आजाद

81. देश की रक्षा राजा की सेना नहीं करती, देश की प्रजा करती है!

लक्ष्मीनारायण मिश्र

82. जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए सामान्य चीज़ो को भी असाधारण रूप से अच्छी तरह से करना होता है!

अज्ञात

83. दूसरों के बारे में उतना ही बोलो, जितना खुद के बारे में सुन सको!

अरस्तु

84. ईश्वर ने हमारे मष्तिष्क और व्यक्तित्व में असीमित शक्तियां और छमता दी हैं!

अज्ञात

85. बिना कुछ किए ज़िन्दगी गुज़ार देने से कहीं अच्छा है ज़िन्दगी को गलतियां करते गुज़ार देना!

नरेन्द्र मोदी

86. ईश्वर से की गई प्रार्थना इन शक्तियों को विकसित करने में मदद करती है!

अब्दुल कलाम

87. डर हमेशा आपको एक कैदी बना के रखेगा, जबकि खुले विचार आपको एक बादशाह बनाके रखेंगे!

अज्ञात

88. परमात्मा के प्रत्येक रूप के अनुरूप अपना रूप बना लो!

ऋग्वेद

89. मैं सब कुछ हूँ, तू कुछ भी नही, बस यही सोच तो हमें इंसान नही बनने देती!

कृष्ण

90. केवल यश और नाम वाले की कोई प्रतिभा नहीं होती!

यजुर्वेद

91. रिश्तों को शब्दों का मोहताज ना बनाइए, अपना कोई नाराज़ है तो ख़ुद ही आवाज़ लगाइए!

अज्ञात

92. व्यथा और वेदना की पाठशाला में जो पाठ सीखे जाते हैं, वे पुस्तकों तथा विश्वविद्यालयों में नहीं मिलते!

अज्ञात 

93. अनजान होना इतने शर्म की बात नहीं, जितना सीखने के लिए तैयार ना होना!

पुराण

94. लोगों के लिए उदाहरण स्थापित करना दूसरों को प्रभावित करने का एक मात्र साधन है!

अल्बर्ट आइंस्टीन

95. विचारशील व्यक्ति को हर जगह सम्मान मिलता है!

सोफोक्लेस

96. जल्दी जागना हमेशा ही फ़ायदेमंद होता है,फिर चाहे वो नीद से हो, या अहम से, या फिर वहम हो!

ब्यास

97. ईश्वरीय शक्ति के सम्मुख मानवीय शक्ति बली नहीं है!

दंडी

98. सम्मान हमेशा समय और स्थिति का होता है, पर इंसान उसे अपना समझ लेता है!

महाभारत

100. यदि एक बड़ा कदम उठाने की आवश्यकता है तो डरे नहीं, आप गहरी खाई को दो चोटी छलांग लगाकर पार नहीं कर सकते!

डेविड लाइड जॉर्ज

101. सुखी व्यक्ति परिस्थितियों के अनुसार ढला हुआ नही होता है बल्कि उसके जीवन जीने का दृष्टिकोण और नजरिया अलग होता है!

ह्यूग डाउन्स

102. लगन का अर्थ उन्नीस बार विफल होने के बाद 20वी बार सफल होना!

जे. एंड्रयूज

103. बालकों में उत्सुकता तो ज्ञान की भूख मात्र है!

जान लॉक

104. बुद्धिमान व्यक्ति दूसरों की गलती से सीखता है!

पी सायरस

105. बुद्धिमान व्यक्तियों को सलाह की आवश्यकता नहीं होती, मूर्ख लोग इसे स्वीकार नहीं करते है!

बेंजामिन फ्रैंकलिन

106. विपत्तियों में ही लोग अपनी शक्ति से परिचित होते हैं, समृद्धि में नहीं!

अज्ञात

107. सही राह पर होने के बाद भी यदि आप वहां बैठे ही रहोगे तो कोई गाड़ी आपको कुचलकर चली जायेगी!

विल रोजर्स

108. उत्कंठित व्यक्तियों की उत्कंठा समय की अपेक्षा करके नहीं होती!

कर्णपूर

109. वह एक मात्र स्थान है जहां आपके सपने असंभव होते हैं वह है स्वयं आपका मस्तिष्क!

अज्ञात

110. नीच की नम्रता अत्यंत दुखदायी है, अंकुश, धनुष, सांप और बिल्ली झुककर वार करते हैं!

महर्षि वाल्मीकि

111. सफल व्यक्ति वह है जो खुद पर फेंकी गई ईटों से मजबूत नीव बना ले!

डेविड ब्रीक्ले

112. यदि दूसरों से अपने प्रतिकूल नहीं चाहते हो तो अपने मन को दूसरों के प्रतिकूल कामों से हटा लो!

अज्ञात

113. अगर आप सफल होना चाहते है, तो आपको सफलता के घिसे-पिटे रास्तों पर चलने की बजाएं नए रास्ते बनाने चाहिए!

जॉन डी. राकेफेलर

114. हमे हमेसा यह याद रखना चाहिए की ख़ुशी जीवन की यात्रा का एक तरीका है न की जीवन की मंजिल!

रॉय गुडमैन

115. विफलता का मौसम सफलता के बीज बोने का सर्वश्रेष्ठ समय है!

परमहंस योगानंद

116. बिना उत्साह के कभी किसी उच्च लक्ष्य की प्राप्ति नहीं होती!

एमर्सन

117. गुस्से से ज्ञान का प्रकाश बुझ जाता है!

आर. जी. इंगरसोल

118. विश्व के इतिहास में प्रयेत्क महान और महत्वपूर्ण आंदोलन उत्साह की सफलता हैं!

एमर्सन

119. कड़ी मेहनत के बिना सफलता का प्रयास करना तो ऐसा है, जैसे आप वहां से फसल काटने की कोशिश कर रहे हो जहां आपने फसल बोई ही नहीं है!

डेविड

120. यदि आप अपनी यादाश्त का परिक्षण करना चाहते है तो याद करे की आज आप एक साल पहले क्या चिंता कर रहे थे!

ई. जोसेफ कॉसमैन

121. मनुष्य अपने जन्म से नहीं बल्कि अपने कर्म से महान बनता है!

चाणक्य

122. इच्छाओं के सामने आते ही सभी प्रतिज्ञाएं ताक पर धरी रह जाती हैं!

अज्ञात

123. यदि आप बार-बार शिकायत नहीं करते हैं तो आप किसी भी कठिनाई को दूर कर सकते है!

बर्नार्ड एम. बारुच

124. संसार में ऐसे लोग थोड़े ही होते हैं, जो कठोर किंतु हित की बात कहने वाले होते है!

महर्षि वाल्मीकि

125. दीपक के प्रकाश की तरह अच्छे काम की ख्याति भी चारों और फैलती है!

विलियम शेक्सपियर

126. हम अपनी आशा के अनुसार मनुष्य के ज्ञान का न्याय करते हैं!

राल्फ वाल्डो इमर्सन

127. आशा कभी आपको छोड़कर नहीं जाती है, आप इसे छोड़ते है!

जॉर्ज वीनवर्ग

128. अपने आप को खुश करने का सबसे अच्छा तरीका है, किसी और को खुश करने की कोशिश करना!

मार्क ट्वेन

129. बिना उत्साह के आज तक कोई भी महान उपलब्धि पाई नहीं जा सकी है!

राल्फ वाल्डो एमर्सन

130. जो आदमी सच्चा कलाकार है, वह स्वार्थमय जीवन का प्रेमी हो ही नहीं सकता!

प्रेमचंद

131. आप आराम की जिंदगी जीना चाहते हैं तो कुछ परेशानी तो उठानी ही पड़ेगी!

एबिगैल वैन ब्यूरेन

132. जो अंतर को देखता है, बाह्य को नहीं, वही सच्चा कलाकार है!

महात्मा गाँधी

133. दुःख भोगने से हमें सुख के मूल्य का ज्ञान होता है, बुरा वक्त कभी भी बताकर नहीं आता, लेकिन बहुत कुछ सिखाकर कर जरुर जाता है!

महर्षि वाल्मीकि

134. अपनी स्वयं की क्षमता से काम करो, दूसरों पर निर्भर मत रहो!

गौतम बुद्ध

135. सुविधा और सम्मान दूसरों को देना चाहिए, लेने की कामना नहीं रखनी चाहिए!

अज्ञात

136. सफल व्यक्ति कोई अलग काम नहीं करते, वो बस अलग तरीके से काम करते हैं!

शिव खेड़ा 

137. सज्जनों का धन तो धैर्य ही है!

बाणभट्ट

138. रुकावटें तो ज़िंदा इंसान के सामने ही आती है..मुर्दों के लिए तो सब रास्ता छोड़ देते है! 

विलियम्स

139. अहंकार मनुष्य का बहुत बड़ा दुश्मन है। वह सोने के हार को भी मिट्टी का बना देता है!

महर्षि वाल्मीकि

140. कुछ अलग करना हो तो भीड़ से हट कर चलिए, भीड़ साहस तो देती है पर पहचान छीन लेती है!

अज्ञात

141. यदि किसी युवती के दोष जानना हों, तो उसकी सखियों में उसकी प्रशंसा करो!

बेंजामिन फ्रैंकलिन

142. समय और जिन्दगी दुनिया के सर्वश्रेष्ठ शिक्षक हैं, जिन्दगी, समय का सदुपयोग सिखाती है और समय हमें जिन्दगी की कीमत सिखाता है!

देवी वर्मा

143. हमारी मनोवृति ही हमारी महानता को निर्धारित करती है!

कहावत

144. स्वास्थ्य सबसे बड़ा उपहार है, संतोष सबसे बड़ा धन और विश्वास सबसे अच्छा संबंध!

गौतम बुद्ध

145. धैर्य तो प्रतिभा का एक आवश्यक तत्व है!

डिजरायली

146. कभी कभी हमे स्वयं को बताने की यह जरूरत पड़ती है की हम दुसरो को क्या दे सकते हैं!

डॉ फिल

147. जितनी बार गिरो ​​उतनी बार उठो, कभी भी हार मत मानो!

कहावत

148. किसी भी मनुष्य की इच्छाशक्ति अगर उसके साथ हो तो वह कोई भी काम बड़े आसानी से कर सकता है। इच्छाशक्ति और दृढ़संकल्प मनुष्य को रंक से राजा बना सकती है!

महर्षि वाल्मीकि

149. जब आप दो बुराइयों में से छोटी बुराई को चुनते है, तो याद रखें कि वह अभी एक बुराई ही है!

मैक्स लर्नर

150. साधारण और असाधारण व्यक्ति के बीच का अंतर थोड़ा सा अतिरिक्त है यही अतिरिक्त उस व्यक्ति को असाधारण बनाता है!

अज्ञात

151 आपकी प्रतिभा, आपको भगवान का दिया गया उपहार है, आप इसके साथ क्या करते है यह आपके द्वारा भगवान को दिया गया उपहार होता है!

लियो बुसकेजलिया

152. कभी भी आप ऐसा न सोचें की आप क्या कर सकते है बल्कि आप हमेसा ऐसा सोचे की आप क्या नहीं कर सकते हैं

जान वुडेन

153. चोट मारने के लिए लोहे के गर्म होने की प्रतीक्षा न करें बल्कि इसे चोट मार-मार कर गर्म करें!

विलियम बी. स्प्रेग

154. दुसरे के दोष पर ध्यान देते समय हम स्वयं बहुत भले बन जाते हैं। परंतु जब हम अपने दोषों पर ध्यान देंगे। तो अपने आपको कुटिल और कामी पाएँगे!

महात्मा गांधी

155. शुरुआत करने का तरीका है, कि बातें बंद करें और काम शुरू करें !

वाल्ट डिज्नी

156. कितना अजीब है ये फलसफा जिंदगी का, दूरियां सिखाती है, की नज़दीकियां क्या होती है!

मैक्स मुलर

157. जीवन एक यात्रा है ना की दौड़, हमें हमेसा अपना जीवन अपने तरीके से जीना चाहिए क्योंकि यह जीवन सिर्फ एक ही बार मिलता है, इस अवसर को को पहचानों!

अज्ञात

158. हमारे अंदर अंधकार और रोशनी दोनों है, यह हमें चुनना है कि इनमें से हम किस को महत्व देते है!

जे. के. रालिंग

159. शक्ति शारीरिक क्षमता से नहीं आती, बल्कि यह एक अदम्य इच्छा शक्ति से आती है!

महात्मा गांधी

160. मुझे आने वाले कल का भय नहीं है क्योंकि मैंने बीता हुआ कल देखा है और मुझे आज से प्यार है!

विलियम ए व्हाइट

161. सौंदर्य तो अस्थाई है लेकिन मन आपका जीवन भर साथ देता है!

एलिशिया मेकेडो

162. मैंने यही सीखा है कि चाहे जो कुछ भी हो, या आज वक्त चाहे कितना भी बुरा लगता है, लेकिन जीवन हमेसा आगे बढ़ता है, और यह कल बेहतर होगा!

माया एंजेलो

163. इस दुनिया में आजाद कौन है, वह व्यक्ति जो खुद पर नियंत्रण रखता है!

होरेस

164. समय’अगर वो सही है, तो सभी अपने हैं, वरना कोई भी नहीं!

कहावत

165. जो चीज विकार को मिटा सके। राग-व्देष को कम कर सके। जिस चीज के उपयोग से मन सूली पर चढ़ते समय भी सत्य पर डटा रहे वही धर्म की शिक्षा है!

महात्मा गांधी

166. बड़ा सोचे, जल्दी सोचे, आगे सोचे विचारों पर किसी का एकाधिकार नहीं है!

धीरूभाई अंबानी

167. जीवन में कोई भी कार्य कठिन नहीं होता। मन से अभ्यास करने से हर कार्य संभव हो जाता है!

अज्ञात

168. जो आप खुद पसंद नहीं करते उसे दूसरों पर भी थोपिए!

कन्फ्यूशियस

169. गुस्सा एक ऐसा हथियार है,जो आपका होते हुए भी आप पर वार करता है!

कन्फ्यूशियस

170. माता-पिता की सेवा और उनकी आज्ञा का पालन जैसा दूसरा धर्म कोई भी नहीं है!

महर्षि वाल्मीकि

171. विचारों को मूर्त रूप देने की क्षमता ही सफलता का रहस्य है!

हेनरी वार्ड बीचर

172 जीवन को कभी हताश न हों, आपका जीवन वही है जहाँ से आपने शुरू किया था, और आज आप वही बन गये हैं जैसा आपने इसे बनाना चाहा!

रिचर्ड एल इवांस

173. धन बर्बाद करके आप निर्धन होते है लेकिन समय बर्बाद करके आप अपना जीवन नष्ट करते है!

अज्ञात

174. उड़ने की अपेक्षा जब हम झुकते हैं तब विवेक के ज्यादा नजदीक होते हैं!

वर्ड्सवर्थ

175. प्रत्येक अनुभव से शक्ति, साहस और आत्मविश्वास मिलता है, जिससे आपके चेहरे पर डर का आना बंद हो जाता है!

एलेनोर रोसवैल्ट

176. यदि आपके पास जो कुछ है, उससे आप संतुष्ट और ख़ुश है तो आप बहुत अमीर है!

महात्मा गाँधी

177. जीवन में सदैव सुख ही मिले यह बहुत दुर्लभ है!

महर्षि वाल्मीकि

178. मैं हू ना. आपके द्वारा कहे गए, ये तीन शब्द किसी परेशान व्यक्ति के जीवन में ऊर्जा भर सकते है!

अब्दुल कलाम

179. अतिसंघर्ष से चंदन में भी आग प्रकट हो जाती है, उसी प्रकार बहुत अवज्ञा किए जाने पर ज्ञानी के भी हृदय में भी क्रोध उपज जाता है!

महर्षि वाल्मीकि

180. जिसमें दया नहीं है, वह तो जीते जी ही मुर्दे के समान है। दूसरे का भला करने से ही अपना भला होता है!

अज्ञात

181.यदि आप वही करते हैं, जो आप हमेशा से करते आये हैं तो आपको वही मिलेगा, जो हमेशा से मिलता आया है!

टोनी रॉबिंस

182. एक चीज़ मैंने देखी है जब आप प्यार करते है दर्द की सीमा तक तो वो दर्द नहीं रहता बस प्यार बढ़ता जाता है!

मदर टेरेसा

183. विफलता परिश्रम छोड़ देने का नतीजा है!

एफ. जी. जॉयनर

184. वन की अग्नि चंदन की लकड़ी को भी जला देती है अर्थात दुष्ट व्यक्ति किसी का भी अहित कर सकता है!

चाणक्य

185. बाधाएं दरअसल भी भयावह चीजें है, जिन पर आपका ध्यान उस समय जाता है जब आप की नजर लक्ष्य से हट जाती है!

हेनरी फोर्ड

186. जब तक आप अपनी समस्याओं एंव कठिनाइयों की वजह दूसरों को मानते है, तब तक आप अपनी समस्याओं एंव कठिनाइयों को मिटा नहीं सकते!

सत्य वचन

187. हमे एक दूसरे के साथ चेहरे पर मुस्कान के साथ मिलना चाहिए क्योंकि यही से प्यार की शुरुआत होती है!

मदर टेरेसा

188. सीढियाँ उन्हें मुबारक हो जिन्हें सिर्फ छत तक जाना है; मेरी मंज़िल तो आसमान है रास्ता मुझे खुद बनाना है!

अब्दुल कलाम

189. निषेध से आकर्षण बढ़ता है। जिस चीज का इंकार किया जाए,उसमे एक तरह का रस पैदाहोना शुरू हो जाता है!

ओशो

190. जीत और हार आपकी सोच पर ही निर्भर करती है, मान लो तो हार होगी, ठान लो तो जीत होगी!

मदर टेरेसा

191. केवल पढ़-लिख लेने से कोई विद्वान् नहीं होता। जो सत्य, तप, ज्ञान, अहिंसा, विद्वानों के प्रति श्रद्धा और सुशीलता को धारण करता है, वही सच्चा विद्वान् है!

अज्ञात

192. इंसान जिंदगी मे गलतियाँ करके इतना दुःखी नही होता, जितना कि वो बार-बार उन गलतियों के बारे मे सोचकर होता है!

चाणक्य

193. सफलता की ख़ुशी मानना अच्छा है पर उससे ज़रूरी है अपनी असफलता से सीख लेना!

बिल गेट्स

194. लोग कहते है दुख बुरा होता है, जब भी आता है रुलाता है, मगर हम कहते है दुख अच्छा होता है, जब भी आता है कुछ न कुछ सिखाता हैं!

चाणक्य

195. गलतियां हमेशा क्षमा की जा सकती हैं, यदि आपके पास उन्हें स्वीकारने का साहस हो!

ब्रूस ली

196. दुनिया की हर चीज़ ठोकर लगने से टूट जाती है, पर कामयाबी हमेशा ठोकर खा के ही मिलती है!

महात्मा गांधीजी

Anmol Vachan in Hindi पर टिप्पणी

अनमोल वचन और सुविचार कैसी भी हो अगर मनुष्य उसे अपने जीवन में लागू नही करता तब तक इस महान वचन को कोई अर्थ नही रहेगा. प्रेरणा हमें मिलती है पर लागू हमें अपने दैनिक जीवन में करना होता है उस महान उदेश्य को पूरा करने के लिए जिसके लिए हमारा इस पृथ्वी पर जन्म हुआ है.

काम कोई भी अच्छा और बुरा नही होता है बल्कि हमें उसे अच्छा बनाना पड़ता है किस्मत में लड़ कर, अपने मेहनत के पसीने से उसे सीचना पड़ता है तब कही वो हमारे सपने को पूरा करने योग्य होता है. इसलिए निराश न हो आज नही तो कल पूरा अवश्य होगा अगर मन कठिन श्रम करने का हौशल है. उम्मीद करता हु आप सभी अनमोल विचार अवश्य पसंद आए होंगे.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *