5 + दोस्ती पर प्रसिद्ध कविताएँ | Hindi poems for friendship

Hindi poems for friendship

दोस्त जीवन का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा होते है जिनसे कोई भी राज छिपी नही रह सकती है. क्योंकि उनकी हरकते होती ही इनती लाजवाब है. वास्तव में ये सत्य है. अगर जीवन में कोई दोस्त न हो, तो भविष्य का कोई अर्थ नही है. क्योंकि ये एक ऐसी सम्पति है जिसे दौलत से करीदा नही जा सकता है.

poem in hindi on friend कविता का उदेश्य दोस्त से जुडी सभी रहस्यों का उजागर करना है जो वास्तिविकता में होता है. कवी कहते है सदियों से चली आ रही ये दोस्ती का अनमोल प्रेम एक अमृत के सामान होता है जिसके पास ये अनमोल रत्न होते है उसका जीवन यूँ ही सफल हो जाता है.

क्योंकि मित्र/ यार में संवेदना, समानुभूति, ईमानदारी, परोपकारिता, करुणा, क्षमा, पारस्परिक समझ, भरोसा, सुखद साथ, एकत्व क्षमता, गलती करने में मित्र से निर्भयता आदि विशेष गुण समाहित होते है जो किसी भी सामान्य इन्सान को महान, गुणकारी और विद्वान बना सकता है.

उन्हीं यादों और सच्चे दोस्त के महत्व को समझाने के लिए कविओं द्वारा रचित प्रसिद्ध Hindi poems for friendship आपके सामने प्रस्तुत है.

मित्रता या दोस्ती पर अनमोल कविताएँ | Poem in Hindi on Friend

दोस्ती दुनिया की सबसे बड़ी खुदाई है।
बँधी हुई जिन्दगी ने यहीं आजादी पाई है।।

चेहरे की रंगत इसने लौटाई है।
आँखों ने ख्वाबों की दुनिया पाई है।।

दोस्ती दुनिया की सबसे बड़ी खुदाई है।
बेगानो की भीड़ में किसी अपने से मुलाकात हो पाई है।।

मुस्कराहट फिर से लौट आई है।
बातों के सिलसिले ने महफिल सजाई है।।

माहौल में खुशबू सी छाई है।
दोस्ती दुनिया की सबसे बड़ी खुदाई है।।

जाति-धर्म ऊँच-नीच की यहाँ नहीं कोई सुनवाई है।
मंदिर-मस्जिद-गुरूद्वारे-चर्च सबकी छवि इसने एक ही बनाई है।।

अपनेपन की भावना इसने ही जगाई है।
खूबसूरती जिन्दगी में इससे ही आई है।।

दोस्ती दुनिया की सबसे बड़ी खुदाई है।
बचपन की ताजगी इससे ही छाई है।।

मौसम में मस्तानगी इसने ही लाई है।
उम्र के पड़ावों में इसने अपनी गहरी भूमिका निभाई है।।

सारी चतुराई इसने ही सिखलाई है।
दोस्ती दुनिया की सबसे बड़ी खुदाई है।।

सपनों को हकीकत की राह इसने ही दिखाई है।
हिम्मत इसने हमेशा ही बढ़ाई है।।

हुनर से पहचान करवाई है।
सफर की थकान इसने मिटाई है।।

दोस्ती दुनिया की सबसे बड़ी खुदाई है।
हर दर्द की होती सुनवाई है।।

अच्छे या हों बुरे हालात साथ इसने हमेशा निभाई है।
उदासी इसने दूर भगाई है।।

रोते हुए चेहरे में हंसी आई है।
भरोसे की ताकत इसने बढ़ाई है।।

दोस्ती दुनिया की सबसे बड़ी खुदाई है।
सागर से भी गहरी इसकी गहराई है।।

बिना रस्मों के इसने कसमें निभाई है।
दोस्ती दुनिया की सबसे बड़ी खुदाई है।।

अवश्य पढ़े, जीवन पर खुबसूरत कविता

सुबह को तरोराजा बनाने वाली लोकप्रिय कविता

Author – ज्योति सिंहदेव

वो साथ था जाना पहचाना — कविता | poem for friendship in Hindi

वो खुशियों की डगर, वो राहों में हमसफ़र।
वो साथी था जाना पहचाना।।

दिल हैं उसकी यादों का दीवाना
वो साथ था जाना पहचाना।।

गम तो कई उसने भी देखे।
पर राहों में चले खुशियों को लेके।।

दिल चाहता हैं हर दम हम साथ चलें।
पर इस राह में कई काले बादल हैं घने
वो साथ था जाना पहचाना।।

मेरे आसुओं को था जिसने थामा।
मुझसे ज्यादा मुझको पहचाना।।

चारों तरफ था घनघोर अँधियारा।
बनकर आया था जीवन में उजियारा
वो साथ था जाना पहचाना।।

गिन-गिन कर तारे भी गिन जाऊ।
पर उसकी यादों को भुला ना पाऊ।।

कहता था अक्सर हर दिन हैं मस्ताना।
हर राह में खुशियों का तराना
वो साथ था जाना पहचाना।।

कहता हैं मुझे भूल जाना।
अपनी यादों में ना बसाना।।

देना चाहूँ हर ख़ुशी उसे।
इसीलिए, मिटाना चाहूँ दिल से
वो साथ था जाना पहचाना।।

बारिश पर सुप्रसिद्ध कविता

सपनों पर प्रेरणादायक कविता

Author — कर्णिका पाठक

दोस्त के लिए कविता – नरेन्द्र वर्मा | Hindi poems for friendship

मैं ना जानू दोस्त तेरे दूर हो जाने के बाद।
यह जिंदगी कैसे जंग बन गई है।।

मैं ना जानू दोस्त तेरे जाने के बाद।
यह गांव की गलियां कैसे सुनी हो गई है।।

मैंने जानू दोस्त तेरे जाने के बाद।
वो खेल का मैदान अब सुना लगता है।।

मैं ना जानू दोस्त तेरे जाने के बाद।
कैसे फूल जैसी जिंदगी पत्थर बन गई है।।

खुद को मनाने की कोशिश करता हूं बहुत।
लेकिन क्या करूं दिल है कि मानता ही नहीं।।

मैं ना जानू दोस्त तेरी दूर हो जाने के बाद।
मेरे चेहरे की हंसी कहां गुम हो गई।।

मैं ना जानू दोस्त तेरे जाने के बाद।
बाजारों की रौनक भी फीकी लगती है।।

तू कब आएगा मेरे भाई मेरे दोस्त।
तेरे को हर दिन गले लगाने का मन करता है।।

शिक्षा पर अनमोल कविता

पृथ्वी पर प्यारी कविता

Author -– नरेंद्र वर्मा

दोस्तो की ही मेहरबानियां बहुत है – कविता – मोहित मित्तल | Dost par Kavita

कुछ दोस्तों की ही मेहरबानियां बहुत है।
दुश्मनो की जरूरत नही हमे
कुछ दोस्तों की ही मेहरबानियां बहुत है।।

दुश्मनो से भी बढ़कर साबित हुए जब दोस्त ऐसी।
ऐसी इस दुनिया मे कहानियां बहुत है।।

यू तो सुंदर रिश्ता दुनिया में , यारों का याराना है।
यारी की बदौलत ही दुनिया मे हुआ मशहूर सुदामा है।।

मगर यारी वाली लहरे खो चुकी अब रवानीया बहुत है।
ऐसी इस दुनिया में कहानियां बहुत है।।

कितनो को बर्बाद किया यारी की तीखी मारो ने।
कत्ल हुआ करते यहाँ अक्सर एतबारों के हथियारों से।।

दोस्त भी अब खा चुके जवानियाँ बहुत है।
ऐसी इस दुनिया में कहानियां बहुत है।।

अ बनाने वाले तुमने ऐसा दिन भी एक काश बनाया होता।
हमने भी wish करके उनको यह अहसास दिलाया होता।।

की तुम्हारी वजह से हुई हमे परेशानियां बहुत है।
ऐसी इस दुनिया में कहानियां बहुत है
दोस्तो की ही मेहरबानियां बहुत है।।

Author -– मोहित मित्तल

मित्र के शब्द – कविता | Best Friend Poem in Hindi

कभी दोस्ती के सितम देखते हैं।
कभी दुश्मनी के करम देखते हैं।।

कोई चहरा नूरे-मसर्रत से रोशन।
किसी पर हज़ारों अलम देखते हैं।।

अगर सच कहा हम ने तुम रो पडोगे।
न पूछों कि हम कितने गम देखते हैं।।

गरज़ उउ की देखी, मदद करना देखा।
और अब टूटता हर भरम देखते हैं।।

ज़ुबाँ खोलता है यहां कौन देखें।
हक़ीक़त में कितना है दम देखते हैं।।

उन्हें हर सफ़र में भटकना पडा है।
जो नक्शा न नक्शे-क़दम देखते हैं।।

यूँ ही ताका-झाँकी तो आदत नहीं है।
मगर इक नज़र कम से कम देखते हैं।।

थी ज़िंदादिली जिन की फ़ितरत में यारों ।
“यक़ीन” उन की आँखों को नम देखते हैं।।

Author — पुरुषोत्तम यक़ीन

दोस्त पर महत्वपूर्ण तथ्य

मित्रता महज एक औपचारिकता नहीं, बल्कि एक बड़ा उत्तरदायित्व है जिसका अर्थ अपने सच्चे और ईमानदार हिस्से को दोस्त या मित्र के साथ साझा करना है. मित्रता या दोस्ती दो या अधिक व्यक्तियों के बीच एक पारस्परिक लगाव का संबंध है जो प्रेम भाव से बंधा होता है.

Hindi poems for friendship का उदेश्य इन शब्दों से आपको परिचित करना था जो हमारे कवी अपने महत्वपूर्ण तथ्यों को इन कविताओं में पीरोए है. उम्मीद करता हूँ कि आपको भी मित्रता पर कविता पसंद आए होंगे.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *