फिल्म स्क्रिप्ट राइटर कैसे बने: फीस, करियर एवं सैलरी की पूरी जानकारी

Whatsapp GroupJoin
Telegram channelJoin

आजकल फिल्मों का युग चल रहा है। फिल्मों में कहानियाँ हमारी दिलों को छू जाती हैं और हमें एक अलग दुनिया में ले जाती हैं। ऐसी फिल्म की कहानी को लिखने वाले यानी फिल्म स्क्रिप्ट राइटर की महत्त्वपूर्ण भूमिका होती है।

आपने शायद कभी अपने दिल में यह सोचा है कि क्या आप भी फिल्मों के दुनिया में अपनी पहचान बना सकते हैं? क्या आपके दिमाग में कहानियों की बारिश होती है? यदि आप ऐसे सवालों के जवाब ढूंढ़ रहे हैं, तो आपको फिल्म स्क्रिप्ट राइटर बनने की सोचने का समय है। इस लेख में, फिल्म स्क्रिप्ट राइटर कैसे बने के लिए सभी सरल चरणों के बारे में बताया गया है, जिसे फॉलो कर आप भी स्क्रिप्ट राइटर बन सकते है.

Table of Contents

स्क्रिप्ट राइटिंग क्या है | What is Script Writing in Hindi

स्क्रिप्ट राइटिंग एक कला है जिसमें लेखक स्क्रिप्ट (पटकथा) के रूप में एक कहानी को विकसित, रचित और प्रस्तुत करता है जो फिल्म, टेलीविजन, वेब सीरीज़ या अन्य मीडिया फ़ॉर्मेट में प्रदर्शित की जाती है।

राइटर और स्क्रिप्ट राइटर मे क्या difference है?

राइटर और स्क्रिप्ट राइटर दोनों एक ही होते हैं लेकिन इन के कामों में थोड़ा फर्क होता है . राइटर किसी घटना को बताता है  जबकि स्क्रिप्ट राइटर उस घटना को दिखाता है.

राइटर जन्म से  होते है. स्क्रिप्ट राइटर बनना पड़ता है जिसके लिए कुछ स्किल्स और कोर्स भी होते हैं. तो इस आर्टिकल में हम लोग जानेंगे फिल्म स्क्रिप्ट राइटर कैसे बने ? फिल्म राइटर बनने के लिए कौन सा कोर्स करें? फिल्म स्क्रिप्ट राइटर की सैलरी कितनी होती है? फिल्म स्क्रिप्ट राइटर के जॉब की अवसर?

फिल्म स्क्रिप्ट राइटर कैसे बने?

फिल्म स्क्रिप्ट राइटर कोर्स के साथ और बिना कोर्स के भी बना जा सकता है  अगर आपके पास इतनी काबिलियत है तो आप बिना कोर्स किए भी स्क्रिप्ट राइटर बन सकते हैं . इसकी शुरुआत कुछ इस प्रकार से कर सकते हैं.

फिल्म स्क्रिप्ट का अध्ययन करें:

एक अच्छे फिल्म स्क्रिप्ट राइटर बनने के लिए, आपको फिल्म स्क्रिप्ट का अध्ययन करना होगा। इसके लिए, आप बेहतरीन फिल्मों को पढ़ें और देखें, जिनमें बातचीत और कहानी की कमाल की नींव रखी गई हो। फिल्मों के स्ट्रक्चर, प्लॉट डेवलपमेंट, चरित्रों के विकास, डायलॉग्स, और फिल्म के अंतर्दृष्टि को समझने की कोशिश करें। इससे आपको फिल्म स्क्रिप्ट लेखन की ideas प्राप्त होंगे.

“एक राइटर के लिए पढ़ना उतना ही जरूरी है जितना कि जीने के लिए ऑक्सीजन”

कहानी विकसित करें:

अगला महत्वपूर्ण चरण है अपनी कहानी को विकसित करना। आपके पास विचार, अवधारणा या किसी इन्स्पायरेशन से लेकर, आपकी कहानी का निर्माण होना चाहिए। अपने पात्र को बनाने और उनकी लाइफ स्टोरी को विकसित करने का प्रयास करें। ध्यान दें कि एक अच्छी कहानी जिसे लोग समझ सकें और जिसमें दर्शकों को रुचि रहे, आपकी महत्वपूर्ण धाराओं में एक अद्वितीय पहचान बना सकती है।

लेखन दक्षता बढ़ाएं:

फिल्म स्क्रिप्ट लेखन के लिए, आपको अपनी लेखन दक्षता को सुधारने की आवश्यकता होगी। यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आप लेखन टेक्निक्स, वाक्य रचना, विविधता और डायलॉग्स को समझें और मास्टर बने।

स्क्रिप्ट लेखन के नियम सीखें:

एक फिल्म स्क्रिप्ट लेखन के लिए निश्चित नियम और रचना होती है। आपको इस नियमावली को समझने और उसके अनुरूप लेखन करने की क्षमता विकसित करनी होगी। यह शामिल हो सकता है, पेज लेआउट, संकेत, संक्षेप, स्ट्रक्चर, और डायलॉग्स के लिए विशेष नियमों का पालन करना।

अभ्यास करें और लिखें:

सबसे महत्वपूर्ण चीज है अभ्यास करना और नियमित रूप से लिखना। लिखते समय, आपको धैर्य रखना होगा क्योंकि पहले कुछ दस्तावेज़ शायद आपकी उम्मीदों के अनुसार ना बने। लेखन की प्रक्रिया के माध्यम से आपको स्वयं को सुधारते और अपनी कला को मजबूत करते रहना चाहिए।

विभिन्न जनर (Genre) की परीक्षा

एक स्क्रिप्ट लिखते समय, विभिन्न जनर की परीक्षा करें। कॉमेडी, ड्रामा, रोमांस, थ्रिलर, विज्ञान-कथा, आदि जैसे विभिन्न जनर में एक स्क्रिप्ट लिखें और अपनी कौशल को परीक्षण करें।

अपना काम साझा करें:

अपने लिखे हुए स्क्रिप्ट्स को अपने दोस्तों, परिवार या व्यावसायिक संघों के साथियों के साथ साझा करें। इससे आपको विभिन्न feedback मिलेगी.

कमीशन कार्य या स्क्रिप्ट लेखन प्रतियोगिताओं में भाग लें:

एक और महत्वपूर्ण तकनीक है कमीशन कार्य के लिए आवेदन करना या स्क्रिप्ट लेखन प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेना। यह आपको अपनी कला को देखा और मान्यता प्राप्त करने का एक अच्छा मौका देता है। कमीशन कार्य करके, आप निर्माताओं या स्टूडियों के साथ सीधे संवाद में रह सकते हैं और उनके आवश्यकताओं के अनुसार स्क्रिप्ट लिख सकते हैं।

प्रोफेशनल मार्गदर्शन प्राप्त करें:

यदि आप फिल्म स्क्रिप्ट लेखन में अधिक गहराई चाहते हैं, तो आप प्रोफेशनल मार्गदर्शन प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए, आप एक संगठन या संगठनों की तलाश कर सकते हैं जो नवाचारी स्क्रिप्ट लेखकों के लिए प्रशिक्षण या मेंटरशिप प्रदान करते हैं। इससे आप अनुभवी लेखकों से सीख सकते हैं और उनसे सलाह और मार्गदर्शन प्राप्त कर सकते हैं।

संगठनों और प्रदर्शनों में भाग लें:

फिल्म संगठनों और प्रदर्शनों में भाग लेना आपको फिल्म स्क्रिप्ट राइटर के रूप में मान्यता और पहचान दिलाता है। इसके लिए, आपको फिल्म संगठनों, लेखक संगठनों और साहित्यिक मंचों में सक्रिय रहना चाहिए। आपको संगठनों की वेबसाइट पर जाकर उनके अद्यतन की जानकारी प्राप्त करनी चाहिए और उनकी अवसरों का लाभ उठाना चाहिए। आपको अपने स्क्रिप्ट्स को प्रदर्शित करने के लिए चार्टेड स्क्रिप्ट पठनों, स्क्रिप्ट वाचनों, लेखक दरबारों और अन्य कार्यक्रमों में हिस्सा लेना चाहिए।

अपना पोर्टफोलियो बनाएँ:

एक अच्छा पोर्टफोलियो आपके कौशल और कला को प्रदर्शित करता है और आपको नौकरी या प्रकाशन में मदद करता है। अपने श्रेष्ठ स्क्रिप्ट्स को एक प्रोफेशनल तरीके से संगठित करें और उन्हें अपने पोर्टफोलियो में शामिल करें। अपने पोर्टफोलियो को डिजिटल रूप में भी बनाएं ताकि आप उन्हें आसानी से ईमेल या ऑनलाइन प्रदर्शित कर सकें।

फिल्मों के लोगों की पसंद समझें:

फिल्मों के निर्माताओं, निर्देशकों, और दर्शकों की पसंद को समझने का प्रयास करें। यह आपको समझने में मदद करेगा कि कौन से प्रकार के स्क्रिप्ट पर हाथ डालने चाहिए और किस तरह की कहानियों और चरित्रों को प्रस्तुत किया जा सकता है।

जीवन का अध्ययन करें:

उत्कृष्ट स्टोरीटेलिंग के लिए, लोगों के जीवन को समझना महत्वपूर्ण है। इसलिए, लोगों के अनुभव, भावनाएं, और दुःख-सुख को समझने का प्रयास करें। इससे आपको रीयलिटी को स्क्रिप्ट में प्रतिष्ठित करने में मदद मिलेगी।

कलाकारों के साथ सहयोग करें:

आप अपने स्क्रिप्ट के कुछ दृश्यों को दिए गए कलाकारों के साथ निवेश करके उनकी प्रतिभा का उपयोग कर सकते हैं। यह उन्हें महसूस करने में मदद करेगा कि आपका स्क्रिप्ट उन्हें किस प्रकार के भूमिकाओं और विभावनाओं को निपटा सकता है।

स्क्रिप्ट लिखते समय इन गलतियों से बचे:

  • किसी के जैसा ना बने .
  • किसी की कॉपी ना करें.
  • गलत उदाहरण ना दें.
  • सादगी से समझौता ना करें .
  • छोटे से छोटे इवेंट को भी अवॉइड ना करें.

फिल्म स्क्रिप्ट राइटर बनने के लिए कौन सा कोर्स करें?

भारत में फिल्म स्क्रिप्ट राइटिंग कोर्स कई संस्थानों द्वारा प्रदान किए जाते हैं।

बैचलर ऑफ आर्ट्स (बीए) या बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स (बीफए) –  यह 3 वर्षीय अंडर graduate डिग्री है इस कोर्स में प्रवेश पाने के लिए आपको 10+2 किसी भी स्ट्रीम से पास करने होंगे .फिल्म स्क्रिप्ट राइटिंग के लिए बीए या बीफए प्रोग्राम में एक विषय के रूप में हिंदी या अंग्रेजी लेने का विकल्प होता है।

बेस्ट कॉलेजेस एंड यूनिवर्सिटीज फिल्म स्क्रिप्ट राइटिंग कोर्स के लिए:

  1. फिल्म और टेलीविजन संस्थान (FTII) – पुणे, महाराष्ट्र
  1. सत्यजित राय फिल्म और टेलीविजन संस्थान (SRFTI) – कोलकाता, पश्चिम बंगाल
  1. विस्लिंग वुड्स इंटरनेशनल – मुंबई, महाराष्ट्र
  1. अन्नपूर्णा इंटरनेशनल स्कूल ऑफ़ फ़िल्म एंड मीडिया (AISFM) – हैदराबाद, तेलंगाना

 इन संस्थानों पर आप फिल्म स्क्रिप्ट राइटिंग के विभिन्न पाठ्यक्रम, सेमिनार और कार्यशालाओं में भाग ले सकते हैं.

फिल्म स्क्रिप्ट राइटर कोर्स की फीस

फीस के मामले में, सामान्यतः यूजी कोर्सेज की फीस अधिकांशतः स्नातकोत्तर कोर्सेज की तुलना में कम होती है। यूजी कोर्सेज की फीस आमतौर पर वार्षिक आधार पर लगभग 1 लाख रुपये से 5 लाख रुपये तक हो सकती है। पीजी कोर्सेज की फीस आमतौर पर लगभग 3 लाख रुपये से 10 लाख रुपये तक हो सकती है।

आपको अपने इंटरेस्ट, बजट और आपकी आर्थिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए विभिन्न कॉलेजों और विश्वविद्यालयों की वेबसाइट या अन्य संसाधनों से फीस के बारे में पता करना चाहिए। इसके साथ ही, आपको विभिन्न कॉलेजों द्वारा प्रदान की जाने वाली छात्रवृत्त के बारे में भी जानकारी रखनी चाहिए. कुछ कॉलेजों के द्वारा छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है.

फिल्म स्क्रिप्ट राइटर के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

रचनात्मक दृष्टिकोण: एक अच्छा स्क्रिप्ट राइटर होने के लिए, आपको रचनात्मक दृष्टिकोण होना चाहिए। आपको कहानी और पटकथा में समस्याओं को पहचानने और हल करने की क्षमता होनी चाहिए।

लेखन कौशल: स्क्रिप्ट राइटिंग के लिए, आपको अच्छे लेखन कौशल की आवश्यकता होती है। आपको वाक्य संरचना, व्याकरण, अभिव्यक्ति, और लेखन के तकनीकों की समझ होनी चाहिए।

फिल्म और टेलीविजन की समझ: आपको फिल्म और टेलीविजन की समझ होनी चाहिए। आपको नवीनतम फिल्मों और टेलीविजन शोज का अवलोकन करना, कथानक की संरचना को समझना, और बाज़ार और दर्शक के पसंद को जानना चाहिए।

व्यक्तित्व: एक सफल स्क्रिप्ट राइटर को समर्पित, सहज और सहज रचनात्मक व्यक्तित्व का होना चाहिए.

स्क्रिप्ट लिखते समय किन-किन बातों का ध्यान रखें?:

  1. कहानी के संरचना: एक अच्छी स्क्रिप्ट की मूलभूत नींव कहानी की संरचना होती है। आपको कहानी की शुरुआत, मध्य भाग और समाप्ति को स्पष्ट करना होगा।
  1. चरित्र/पात्र विकास: प्रमुख चरित्रों का विस्तृत विकास करें, उनकी प्रतिभा, दुविधाएं, लक्ष्य, और संघर्ष को दर्शाएं। चरित्रों को अपने स्वभाव, भाषा और शैली में अद्यतित रखें।
  1. दृश्य संरचना: दृश्यों की संरचना को सुनिश्चित करें, जिसमें स्थान, समय, उपकरण, और क्रियाएं स्पष्ट रूप से व्यक्त हों।
  1. वाणी: चरित्रों के वाणीकी शैली को समझें और वाणीकी संघर्ष, व्यंग्य, और वक्ता-श्रोता के बीच संवाद को बनाएं।
  1. लघु वाक्यों का उपयोग: स्क्रिप्ट में लघु वाक्यों का उपयोग करें जो आसानी से बोले जा सकते हैं और फिल्मी भाषा को प्रतिष्ठित कर सके.
  1. प्रसंगिकता: अपनी कहानी मे वातावरण, और पात्रों को जीवंत और संघर्षपूर्ण बनाएं जो दर्शकों के साथ संवाद कर सकें।
  1. दर्शकों की दृष्टि:  ध्यान दें कि आपकी कहानी और पात्रों की स्थिति दर्शकों को संवाद कर सके और उन्हें जुड़ने और सहानुभूति करने का अवसर दें।
  1. दृश्य चित्रण: दृश्यों के सही चित्रण के माध्यम से फिल्म को दर्शकों के सामर्थ्य में लाना हमेशा महत्वपूर्ण होता है। विवरणशीलता, भाषा, और महत्वपूर्ण साधनों को स्पष्ट रूप से व्यक्त करें ताकि निर्माताओं और निर्देशकों को स्क्रिप्ट को समझने में सहायता मिले।

यह सभी स्किल्स फिल्म को देखकर और उसका एनालिसिस करने पर धीरे-धीरे राइटर को प्राप्त होने लगती हैं.

टेक्निकल terms के बारे में पता होना चाहिए

स्क्रिप्ट लेखन उपकरणों के अलावा, संगठन, नोट बुक, और कलम जैसे सामग्री को सुव्यवस्थित रखना भी महत्वपूर्ण है। आप एक संगठनित तारीख पंचांग बना सकते हैं जहां आप विभिन्न घटनाओं और परिवर्तनों को ट्रैक कर सकते हैं।

स्क्रिप्ट लेखन के दौरान रचनात्मकता को बढ़ाने के लिए कविता, कहानी, या अन्य रचनात्मक लेखन उपायों का भी उपयोग करें। यह आपकी सोचने की क्षमता और अभिव्यक्ति को मजबूत करेगा।

स्क्रिप्ट किस भाषा में लिखे?

स्क्रिप्ट की भाषा विभिन्न प्रासंगिक कारकों पर निर्भर करती है, जैसे कि आपकी लक्ष्य निर्दिष्ट करना, आपका टारगेट निर्देशकों और निर्माताओं का विचार, और आपकी निश्चित उपभोक्ता आडियंस के प्रति विचारधारा।

अगर आप एक हिंदी फिल्म, टेलीविजन शो, या नाटक के लिए स्क्रिप्ट लिख रहे हैं, तो हिंदी में लिखना एक उचित विकल्प होगा। इससे आपके लेखन को अपनी मातृभाषा में आसानी से व्यक्त करने का मौका मिलेगा और आपकी कहानी का अधिकारिक स्वरूप बनेगा।

स्क्रिप्ट लिखने के बाद क्या करें? :

  1. स्क्रिप्ट को संशोधित करें: अपने लिखे गए स्क्रिप्ट को संशोधित करें। इसके द्वारा आप स्टोरी, कैरेक्टर्स और दृश्यों को सुधार सकते हैं। अपने स्क्रिप्ट की भाषा, प्रवाह और संरचना को भी समीक्षा करें।
  1. वार्तालापिका को ध्यान में रखें: स्क्रिप्ट की वार्तालापिका को मजबूत करें। दृश्यों और टिप्पणियों को व्यंग्य, रोमांच या नटकीयता के साथ रचें। वार्तालापिका को मजबूत बनाने के लिए दृश्यों की महत्वपूर्ण बातचीत और पाठों को स्पष्ट करें।
  1. Repetition को संशोधित करें: स्क्रिप्ट में वर्णन को सरल, संक्षेपित और प्रभावी बनाएं। इससे दर्शकों को बेहतर समझने और विजुअलाइज करने में मदद मिलेगी।
  1. अभिनय का प्रयोग करें: अगर संभव हो तो, अपने स्क्रिप्ट का कुछ अंशों को अभिनय करें। इससे आप अपनी दृश्य और कैरेक्टर्स को अधिक वास्तविक और जीवंत बना सकते है.
  1. स्क्रिप्ट को अनुवाद करें: यदि आप हिंदी में स्क्रिप्ट लिख रहे हैं और आपका उद्देश्य इसे अन्य भाषाओं में ट्रांसलेट करना है, तो आप अपने स्क्रिप्ट को उचित भाषांतर में बदल सकते हैं। यह आपको अपनी कहानी को विश्व स्तर पर प्रसारित करने में मदद करेगा।

स्क्रिप्ट को जितनी गहराई और एकाग्रता के साथ लिखा जाएगा, स्क्रिप्ट उतना ही बेहतर होगा. इसलिए स्क्रिप्ट को ऐसे जगह और ऐसे समय में लिखें जहां पर कोई डिस्ट्रेक्शन ना हो.

फिल्म स्क्रिप्ट लिखने के बाद कहां और कैसे रजिस्टर करवाएं?

स्क्रिप्ट को फिल्म के डायरेक्टर के पास ले जाने से पहले उसे रजिस्टर करवाना जरूरी होता है यह दोनों के लिए सेफ होगा . रजिस्टर करवाने से आपका स्क्रिप्ट कोई दूसरा व्यक्ति नहीं चुरा सकता है.  कॉपीराइट ऑफिस द्वारा निर्धारित फीस का भुगतान करना होता है और आवश्यक दस्तावेज़ों के साथ कॉपीराइट पंजीकरण प्रक्रिया पूरी करनी होती है,  आप ऐसे वेबसाइट पर अपने स्क्रिप्ट का पंजीकरण करवा सकते हैं.

Indian Copyright Office (भारतीय कॉपीराइट ऑफिस): भारत में स्क्रिप्ट रजिस्ट्रेशन के लिए, आप Indian Copyright Office की वेबसाइट (copyright.gov.in) पर जा सकते हैं और अपने स्क्रिप्ट को रजिस्टर कर सकते हैं।

इस वेबसाइट पर जाकर के आप और भी जानकारी इसके बारे में प्राप्त कर सकते हैं.

 एक स्क्रिप्ट राइटर निम्न टॉपिक पर स्क्रिप्ट लिख सकते है

फिल्म स्क्रिप्ट राइटर

टेलीविजन सीरियल स्क्रिप्ट राइटर

वेब सीरिज स्क्रिप्ट राइटर

एड फिल्म स्क्रिप्ट राइटर

डॉक्यूमेंट्री स्क्रिप्ट राइटर

रेडियो स्क्रिप्ट राइटर

थिएटर स्क्रिप्ट राइटर

वीडियो गेम स्क्रिप्ट राइटर

कॉर्पोरेट वीडियो स्क्रिप्ट राइटर

अनुवादित स्क्रिप्ट राइटर

फिल्म स्क्रिप्ट राइटर के जॉब के अवसर

स्क्रिप्ट डिवेलपमेंट एक्जिक्यूटिव: यह जॉब फिल्म स्टूडियो या निर्माण कंपनियों में होती है, जहां स्क्रिप्ट डिवेलपमेंट और विकास के प्रक्रिया को संचालित किया जाता है।

इंडीपेंडेंट फिल्म स्क्रिप्ट राइटर: आप अपनी स्वतंत्र फिल्मों के लिए स्क्रिप्ट लिखकर अपने लेखन कौशल को प्रदर्शित कर सकते हैं। आप फिल्म उत्पादन में अपने खुद के प्रोजेक्ट पर काम कर सकते हैं।

टेलीविजन शो स्क्रिप्ट राइटर: टेलीविजन शो के लिए स्क्रिप्ट लिखने का काम भी उपलब्ध है। यह शामिल हो सकता है सीरियल, वेब सीरीज, कॉमेडी शो आदि।

फिल्म निर्माता: कुछ फिल्म स्क्रिप्ट राइटर फिल्म निर्माता बनकर अपने लेखन कौशल को उपयोग करते हैं। वे स्क्रिप्ट के निर्माण प्रक्रिया में सहायता करते हैं और फिल्म के प्रोडक्शन को निर्देशित करते हैं।

इन सभी के अलावा और भी बहुत सारे नौकरी के अवसर होते हैं.

Script writer की सैलरी कितनी होती है?

फिल्म स्क्रिप्ट राइटर की सैलरी कई तत्वों पर निर्भर करती है, जैसे कि उनकी अनुभव स्तर, प्रोजेक्ट का प्रकार, फिल्म का बजट, फिल्म इंडस्ट्री के स्थान, उनकी नेगोशिएशन क्षमता आदि। सामान्यतः, एक नवीनतम स्क्रिप्ट राइटर की सालाना सैलरी शुरुआती स्तर पर लगभग 5 लाख रुपये से शुरू हो सकती है।

हालांकि, यह ध्यान देने योग्य है कि सैलरी किसी निश्चित संबंधित परियोजना या कंपनी के आधार पर भी बदल सकती है। जब एक स्क्रिप्ट राइटर अपना पहला फिल्म प्रोजेक्ट या बड़े बजट फिल्म पर काम करता है, तो सैलरी बढ़ सकती है। इसलिए, अपनी क्षमताओं को विकसित करने, अनुभव प्राप्त करने और अवसरों का उपयोग करने के माध्यम से सैलरी में वृद्धि करने का प्रयास करें।

इसे भी पढ़े,

फिल्म स्क्रिप्ट राइटर सम्बंधित प्रश्न

Q. स्क्रिप्ट राइटर कैसे बनें?

एक स्क्रिप्ट राइटर बनने के लिए, आपको लेखन कौशल को विकसित करने की आवश्यकता होगी। आप फिल्म और टेलीविजन स्क्रिप्ट लेखन के बारे में सीख सकते हैं, उच्च गुणवत्ता वाले स्क्रिप्ट पढ़ सकते हैं, और लेखन के माध्यम से अपने रचनात्मक दक्षता को प्रदर्शित कर सकते हैं।

Q. स्क्रिप्ट राइटिंग के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए?

स्क्रिप्ट राइटिंग के लिए कोई निश्चित योग्यता नहीं होती है, लेकिन एक रचनात्मक दृष्टिकोण, लेखन कौशल, विचारशीलता, फिल्म और टेलीविजन की समझ महत्वपूर्ण होती है.

Q. स्क्रिप्ट राइटिंग के लिए पढ़ाई कहां से करें?

स्क्रिप्ट राइटिंग के लिए आप विभिन्न किताबों, ऑनलाइन पाठ्यक्रमों, वर्कशॉप्स, और संगठनों द्वारा संचालित कक्षाओं के माध्यम से स्क्रिप्ट राइटिंग के बारे में सीख सकते हैं।

Q. स्क्रिप्ट राइटर बनने के लिए कौन-सी कोर्सेज और पाठ्यक्रमों का चयन करें?

आप फिल्म और टेलीविजन स्क्रिप्ट राइटिंग के लिए विश्वविद्यालयों और निजी संस्थानों की ओर देख सकते हैं जो संबंधित पाठ्यक्रम प्रदान करते हैं। कुछ प्रमुख संस्थान भारतीय फिल्म और टेलीविजन संस्थान (FTII), फिल्म और टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (FTII), नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा (NSD), और अन्य हैं। इन संस्थानों के पाठ्यक्रमों को जानने के लिए उनकी आधिकारिक वेबसाइट पर जांचें और आवेदन प्रक्रिया के बारे में जानकारी प्राप्त करें।

Q. क्या एक स्क्रिप्ट राइटर के लिए प्रयास करने की जरूरत है?

हां, स्क्रिप्ट राइटिंग एक क्रिएटिव और कठिन क्षेत्र है, इसलिए प्रयास करने की जरूरत होती है। आपको लेखन कौशल को निरंतर विकसित करना होगा.

Whatsapp GroupJoin
Telegram channelJoin

Leave a Comment