फैशन डिजाइनिंग कोर्स कैसे करे और डिज़ाइनर कैसे बने

Fashion Designing in Hindi

Fashion Designing Course (Hindi), डिजाईन का नाम सुनकर कितना अच्छा महसूस होता है यह सबको मालूम है और इसके खासियत के बारे में भी अधिकतर लोगो को पता है, डिजाइनिंग आज के दुनियां का सबसे बड़ी इंडस्ट्री है, करियर के नजर से और अधिक महत्वपूर्ण है.

क्योकि दुनिया में ऐसा कोई नही है जिसे यह मालूम न हो कि डिजाइनिंग कोर्स क्यों महत्वपूर्ण है. यह फील्ड पिछले एक-दो दसक से इतना ज्यादा ट्रेंड में है कि अब दुनिया इसकी आदि हो चुकी है. इस कोर्स का लोकप्रियता दिन-प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है.

वैसे डिजाइनिंग के फिल्ड बहुत बड़ी है पर आज आपको फैशन डिजाइनिंग कोर्स से रूबरू करवाएंगे और इसके विशेषताए की चर्चा विस्तार से करेंगे. लेकिन इससे पहले आपसे कुछ जानना चाहेंगे कि आप फैशन डिजाईन कोर्स डिटेल्स से क्या उम्मीद करते है.

Fashion Designing क्या है, फैशन डिजाइनिंग में करियर, फैशन डिज़ाइनर बनने का प्रक्रिया क्या होता है, फैशन डिजाइनिंग सब्जेक्ट्स, फैशन डिजाइनिंग में सिलेबस क्या होता है, फैशन डिजाइनिंग में जॉब्स की क्या चांसेस है, आदि. अगर इसके बारे में इतना जानकारी नही है तो हमारे साथ बने रहे. इस लेख में डिजाइनिंग कोर्स के सभी महत्वपूर्ण टॉपिक को विस्तार से सजाया गया है.

फैशन डिजाईन कोर्स क्यों महत्वपूर्ण है

फैशन डिजाइनिंग कोर्स उन सभी डिजाइनिंग कोर्सेज में से एक है जिसका प्रचलन इस समय बहुत ही ज्यादा है. इस बदलती दुनियां के तौर तरीके फैशन के प्रति एक नया प्रारूप बन चूका है.

जिससे हर कोई परिचित है और इसमें करियर के अपार मौके देख रहे है. हममें से हर कोई आज फैशन और डिजाईन के पीछे भाग रहा है जिसके परिणाम स्वरुप इस इस फील्ड में करियर के बेहतर मौके (Grand Opportunity) बनते जा रहे है. फैशन डिजाइनिंग, केवल कपड़ो तक ही सिमित नही रहा, बल्कि इसकी विस्तार बहुत अधिक हो चूका है, जिसमे एक बेहतरीन करियर बनाया जा सकता है.

यह एक प्रसिद्ध कोर्स है जिसके प्रति लोगो की रूचि बहुत है. अगर आपका रूचि इस के फिल्ड में है तो यह कोर्स आपके लिए बेहतर आप्शन हो सकता है क्योकि फैशन डिजाइनिंग कोर्स एक बेहरत करियर प्रदान करता है.

कहा जाता है कि बिना रूचि का कोई काम नही होता. इसीलिए जरुरी है अपना चुनाव हमेशा अपने लगन के अनुशार हो. ताकि आप उसके साथ अच्छा फील कर सके और उसे बेहरत तरिके से भी कर सके.

फैशन डिजाइनिंग कोर्स आप 10th/ 12th के बाद कर सकते है. बसर्ते इसके लिए जरुरी स्किल्स आपके पास हो.

जरुर पढ़े….!!

Web Designing क्या है, और कैसे करे

ग्राफ़िक डिज़ाइनर कैसे बने

Fashion Designing क्या है और क्यों जरुरी है

Fashion Designing kya hai

फैशन डिजाईन: डिजाईन शुन्दरता प्रदान करने का एक कला है, डिजाईन का मांग समय के साथ बदलता रहता है और यह एक ऐसा फील्ड है जिसका मांग समय के अनुरूप अलग-अगल होता है. जैसे आज कुछ और कल कुछ अलग आदि.

यह इंडस्ट्री हमेशा ट्रेंड में ही रहता है जिसका सीधा-सा मतलब है, पसंद और मांग (choice and demand). यहाँ हर कोई Fashionable है इस फील्ड में, बात चाहे कपड़ो के हो या फिर Garments का या Jewelry का, Designing की भागेदारी इस सभी कामो में है.

फैशन डिज़ाइनर का काम केवल Cloths और Accessories तक ही सिमित नही है बल्कि Bracelet और Necklace आदि भी शामिल है. समय के मांग के मुताबिक इसका ट्रेंड बतलाता रहता है. इसमें सबसे ज्यादा Consumer के tastes को ध्यान में रखा जाता है.

डिज़ाइनर का काम सिर्फ डिजाईन करना ही नही होता है उन्हें मार्किट के मांग और Audience के पसंद (Choice) को भी Analyse करना होता है की कौन-सा Fashion Trend में है और कौन-सा Fashion Market में Trend हो सकता है.

विश्लेषण (Analyse) करने के बाद, उन्हें वैसे ही विशिष्ट डिजाइन (Specific Design), दर्शक (Audience) के लिए निर्माण (Manufacture) कराना होता है ताकि मार्किट अच्छा पकड़ सके. इन्ही सभी प्रक्रियाओ को फैशन डिजाइनिंग कहा जाता है.

इसे भी पढ़े

B.Sc कैसे करे और जरुरी क्यों है

ITI क्या है और कैसे करे

इंटीरियर डिज़ाइनर कैसे बने

फैशन डिजाइनिंग कोर्स के लिए योग्यता (Fashion Designing Eligibility in Hindi)

फैशन डिजाइनिंग कोर्स के लिए वैसे किसी विशेष डिग्री की आवश्यता नही होती है इसमें केवल आपका रूचि और स्किल्स होना चाहिए. पर एक सही योजना (Perfect Plan) को पूरा के लिए रूचि, स्किल्स और अटूट विश्वास का बेहद जरुरी होता है.

आप इस कोर्स को अपने स्कूली शिक्षा {Schooling (10th) Education} पूरा करके भी कर सकते है पर एक अच्छे फैशन डिज़ाइनर बनने के लिए 12th पास होना बेहद जरुरी होता है.

यह मायने नही रखता की आपने किस स्ट्रीम से अपना 12th पूरा किया है. आपके 12th के Certificate में 45% से 55% मार्क्स होना चाहिए और आपका Board Govt. Organization से मान्यता प्राप्त होना चाहिए, तब आप फैशन डिजाइनिंग कोर्स के किए योग्य (Eligible) होते है.

क्योकि एक अच्छे और प्रतिष्ठित संस्थान में एडमिशन लेने के लिए आपके पास ऊपर बताए गए योग्यता होन चाहिए क्योकि संस्थानों के एडमिशन लेने की प्रक्रिया और Requirement अलग-अलग होती है.

फैशन डिजाइन कोर्स फीस (Fees In Fashion Designing)

फैशन डिजाइनिंग कोर्स की एडमिशन प्रक्रिया , Requirement और फ़ीस, सभी अलग-अलग होते है, अगर आप इसी कोर्स को किसी सामान्य इंस्टिट्यूट से करते है तो उनका सामान्य फ़ीस 20,000 से 50,000 तक होता है.

लेकिन आप Delhi, Mumbai, Bengaluru आदि शहरों से करना चाहते है तो ऐसे इंस्टीट्यूट की सामान्य फ़ीस 1,00,000 से 4.5 लाख तक होता है. इसलिए अपना चुनाव पूरी तरह रिसर्च कर के करे.

फैशन डिजाइनिंग के लिए आवश्यक कौशल (Required Skill For Fashion Designing)

फैशन डिजाईन के फील्ड में एक अच्छे और मन पसंदिता, करियर बनाने के लिए कुछ सामान्य और अनोखा, स्किल्स की जरुरत होती है. जैसे Artistic और Creative Personality Skill आदि,

इन सब के अलावा Sketching और Drawing का ज्ञान होना बेहद जरुरी है क्योकि आपमे यह ability होनी चाहिए की आप अपने Ideas को Drawings और Sketchs के द्वारा अच्छे से अभिव्यक्त (Expressed) कर सके.

वैसे रचनात्मक दिमाग का होना हर फील्ड के लिए आवश्यक होता है और डिजाइनिंग पूरी तरह से रचनात्मकता (Creativity) से भड़ा पड़ा है, इसिलए इस इंडस्ट्री में करियर बनाने के लिए निम्न स्किल्स जरुरी है.

  • रचनात्मकता और कलात्मक क्षमता (Creativity and Artistic Ability)
  • बात करने की तरीके (Good Communication Skills)
  • सोचने की क्षमता (Ability to Think in Goal-Oriented Dimension)
  • बिज़नस की समझ (Business Idea)
  • ट्रेंड की अच्छी समझ (Good Understanding of Market)
  • ग्राहक को समझने की क्षमता (Ability to Understand customer Lifestyle)
  • कल्पनाएँ करना (Visual Imagination)
  • चित्र कला (Art in Sketching), etc.

फैशन डिजाइनिंग कोर्स डिटेल्स (Fashion Designing Courses List)

फैशन डिजाइनिंग कोर्स का प्रारूप (formats) अलग-अलग होता है मतलब आप Degree/ Diploma certificate से कोर्स कर सकते है और इसके अलावा इस कोर्स के सिलेबस (Curriculum) भी इंस्टीट्यूट के अनुशार अलग-अलग होते है. इसीलिए इस कोर्स से सम्बंधित कुछ डिप्लोमा कोर्स को निचे मेंशन कर रहे है इससे आपका concept हो जाएगा.

फैशन डिजाइनिंग सिलेबस (1 वर्ष ) {Diploma In Fashion Designing}

  • Fashion Accessory
  • Fashion Illustration
  • Fashion Ornamentation
  • Textile science
  • Fashion Market
  • Fashion Management
  • Computer Design
  • Product Specification
  • Drawing & Technical Specifications
  • Fashion Trends
  • Collection Planning
  • Fashion Digital Design
  • Prototype Creation
  • Pattern Production & Development
  • CAD
  • Fabric Cutting & Marking Methods
  • Fabric Analysis
  • Using Automatic Sewing & Ironing Machines

फैशन डिजाईन में 3 वर्ष का कोर्स (Undergraduate Diploma In Fashion Designing in Hindi)

  • Foundation Arts
  • Introduction Of Fashion Design
  • Introduction of Textile
  • Basic of computer and Application
  • Introduction of Pattern Making
  • Anticipating Trends.
  • The fashion system.
  • History of Art and Costume History.
  • Pattern making.
  • Fabrics and raw materials.
  • Design of clothes.
  • Product development.
  • Fashion design.
  • Collection collage.
  • Marketing and research

PG Diploma In Fashion designing Syllabus in Hindi

  • Fashion designing Process
  • presentation and Techniques
  • Contextual Design
  • Fashion Function, etc.

फैशन स्टाइलिंग सर्टिफिकेट (Certificate In Fashion Styling in Hindi)

  • Fashion Image Analysis
  • Styling to Suit Various Fashion Genres
  • Styling Body types
  • Trends
  • Market
  • Street Style
  • styling Kit
  • Team Work
  • Project Management
  • Fashion Hair and Makeup, etc.

फैशन डिजाइनिंग में करियर (Career Scope Fashion Designing)

जैसे की आप जानते है कि फैशन डिजाईन एक तेजी से उभरता हुआ फील्ड है और इसमें करियर की अपार संभावनाएँ है क्योकि यह धीरे-धीरे ग्लोबल इंडस्ट्री बन चूका है,

फैशन डिज़ाइनर की मांग पहले से अब बहुत ही ज्यादा हो गया है जिसके वजह से इसमें करियर बनाने के बहुत मौके है.

डिज़ाइनर के लिए कंपनियां दरवाजे खोले बैठे है जिनके पास फैशन डिजाइनिंग के अच्छी ज्ञान है जैसे Various Fabrics की जानकारी, Color Combination की जानकारी आदि.

Job Profile

यह कोर्स पूरा करने के बाद आप विभिन्न पद पर जॉब कर सकते है जो अपने आप में एक अलग ही पहचान रखता है

  • Fashion Designer
  • Fashion Marketer
  • Fashion Concept Manager
  • Quality Controller
  • Fashion Coordinator
  • Fashion Show Organizers
  • Technical Designer
  • Fashion Consultant
  • Fashion Journalist
  • Fashion Modelling
  • Fashion Photography
  • Fashion Textile Designer
  • Fashion Fabric Designer
  • Fashion Stylist
  • etc.

फैशन डिज़ाइनर की सैलरी (Salary Of Fashion Designer)

कोर्स पूरा करने के बाद बहुत सारे स्टूडेंट Internship के जाते है ताकि वो अपने स्किल्स को और बेहतर बना सके और बहुत विद्यार्थी जॉब के लिए जाते है. क्योकि Designer की Salary उनकी Ability और skills निर्भर होता है.

वैसे एक डिज़ाइनर की बात की जाए तो Fresher Level के पर उनकी अनुमानित सैलरी लगभग 12,000 से 20,000 के बिच होता है, और वही एक अनुभवी डिज़ाइनर की सैलरी 30,000 से ज्यादा होता है

महत्वपूर्ण प्रश्न और टिप्स

Q. फैशन डिजाइनर बनने में कितना समय लगता है?

फैशन डिजाइनिंग के क्षेत्र में काम करने से पहले स्नातक की डिग्री पूरी करने वाले डिजाइनरों को अपना करियर शुरू करने में लगभग चार साल लगते हैं। जबकि अधिकांश स्नातक स्कूल के बाद फैशन या इससे संबंधित क्षेत्रों में काम कर सकते हैं, एक डिजाइनर को इस उद्योग में पहचान हासिल करने में कई साल लग सकते हैं जो उनके कार्य क्षमता पर आधारित होता है.

Q. फैशन डिजाइनिंग कोर्स की फीस क्या है?

फैशन डिजाईन सर्टिफिकेट कोर्स करने के लिए सालाना 30000 से 3.5 लाख तक लगते हैं। और शुरू में एक प्रवेश परीक्षा से गुजरना पड़ता है। सभी सेमेस्टर और इसमें प्रैक्टिकल शामिल हैं जिनकी गणना प्रति वर्ष लगभग 5 लाख है और डिग्री 4 साल तक जारी रहती है।

Q. फैशन डिजाइनर का क्या मतलब है?

फैशन डिजाइन कपड़े और उसके सामान के लिए डिजाइन, सुन्दर और प्राकृतिक सुन्दरता प्रदान करने की कला है. यह सांस्कृतिक और सामाजिक दृष्टिकोण के अनुरूप तैयार किया जाता है, फैशन डिजाइनर कपड़े डिजाइन करने का प्रयास करते हैं जो कार्यात्मक होने के साथ-साथ सुन्दरता प्रदानकरने रूप से मनपसंद भी होते हैं.

Q. फैशन डिज़ाइनर कैसे बने? (Fashion designer in Hindi)

एक बेहतर फैशन डिजाइन बनाने के लिए ग्रेजुएट होना बेहद जरुरी है. इसके अलावा सोचने समझने की अनोखा क्षमता का होना सबसे आवश्यक है. किसी भी काम कैसे आसानी से कर सके आदि का समझ, ऐसे स्किल्स वाले विद्यार्थी फैशन डिज़ाइनर के लिए योग्य होते है.

Q. फैशन डिजाइनिंग का कोर्स क्या है?

एक फैशन डिजाइन कोर्स एक ऐसा कोर्स है जो सुंदर कपड़े और फैशन के सामान को डिजाइन करने की कला को कवर करता है। ये कोर्स छात्रों को दिखाने के लिए प्रसिद्ध डिजाइनरों के काम और उस समय की संस्कृति को दिखाते हैं कि कैसे एक महान फैशन डिजाइन आने वाले कल में बन सकते है.


3 thoughts on “फैशन डिजाइनिंग कोर्स कैसे करे और डिज़ाइनर कैसे बने

  1. 𝚖𝚞𝚓𝚎 𝚔𝚘𝚒 𝚋𝚝𝚊𝚢𝚎𝚐𝚊 𝚔𝚒.𝚖𝚊𝚒𝚗𝚎 𝚋.𝚜𝚌 𝚏𝚊𝚜𝚑𝚒𝚘𝚗 𝚍𝚎𝚜𝚒𝚐𝚗𝚒𝚗𝚐 𝚝𝚎𝚡𝚝𝚒𝚕𝚎 𝚜𝚎 𝚔𝚒 𝚑 𝚒𝚜𝚔𝚎 𝚋𝚊𝚊𝚍 𝚖 𝚔𝚢𝚊 𝚔𝚛𝚞

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *