एचआर (HR) मैनेजर कैसे बने: सैलरी, जॉब, कोर्स की पूरी जानकारी जाने

Whatsapp GroupJoin
Telegram channelJoin

आज के समय में किसी भी कंपनी/ संस्थान/ संगठन में ऐसा नहीं है कि HR Department (Human Resource Department) नहीं होता हैं. यानी हर संस्थान में एचआर डिपार्टमेंट होता है, जिसे मैनेज करने के लिए HR Manager (Human Resource Manager) की जरूरत होती है. और आजकल युवाओं के लिए यह एक दिलचस्प करियर है.

तो क्या आप भी बनना चाहते हैं Human Resource Manager. यदि हां, तो आज इस आर्टिकल में हम लोग जानेंगे ह्यूमन रिसोर्स मैनेजर कैसे बने? यानी एचआर मैनेजर (HR Manager) कैसे बने? एचआर मैनेजर बनने के लिए कौन-कौन से कोर्स है?, एचआर मैनेजर की सैलरी कितनी होती है?, कौन-कौन सी स्किल्स है? आदि की पूरी जानकारी इस आर्टिकल में पढ़े विस्तारपूर्वक.

एचआर मैनेजर क्या होते हैं?

HR Manager का full form होता है Human Resource Manager. HR मैनेजर एक उच्च स्तरीय पद है जो HR विभाग के प्रमुख कार्यों का प्रबंधन करता है। एक HR मैनेजर उच्च स्तरीय निर्णय लेता है और विभाग/ कम्पनी/ संस्थान/ संगठन के सभी कार्यों को संगठित करने के लिए जिम्मेदार होता है.

वह नये कर्मचारियों की भर्ती और चयन, प्रशिक्षण और विकास कार्यक्रमों का प्रबंधन, नौकरी से संबंधित नियमों और नियमों का पालन, कर्मचारी कल्याण की योजनाओं का व्यवस्थापन, कार्यकारी स्तर पर निर्णय लेने और विभाग की प्रगति की निगरानी करता है.

एक HR मैनेजर का मुख्य कार्य उचित और क्षमतापूर्वक उम्मीदवारों को चुनना और भर्ती करना होता है. HR मैनेजर अक्सर उच्च स्तरीय निर्णयकर्ता, नेतृत्वी व्यक्ति और संगठन के व्यापारिक लक्ष्यों के साथ मिलकर काम करता है.

एचआर (मानव संसाधन) मैनेजर कैसे बने

एचआर मैनेजर बनने के लिए निम्नलिखित कदमों का पालन करना पड़ता हैं:

शिक्षा और अध्ययन: एचआर क्षेत्र में विशेषज्ञता प्राप्त करने के लिए शिक्षा का महत्वपूर्ण भूमिका होती है. आप मानव संसाधन प्रबंधन, लेबर नियम, भर्ती और चयन, प्रशिक्षण और विकास, वेतन प्रबंधन, और संगठनात्मक व्यवस्था के बारे में ज्ञान प्राप्त करने के लिए एक संबंधित पाठ्यक्रम पूरा कर सकते हैं.

अनुभव प्राप्त करें: अधिकांश संगठन अनुभव की मांग करते हैं. अनुभव से आप भर्ती प्रक्रिया, कर्मचारी प्रशिक्षण, परिपक्वता और नियमन, और कर्मचारी संबंधित मुद्दों को हल करने में महारत हासिल कर सकते हैं। इसके अलावा, आप नेटवर्क भी बना सकते हैं.

खुद का विकास करें: अपने क्षमताओं और स्किल्स का संवर्धन करना महत्वपूर्ण है. आपको नवीनतम ट्रेंड्स, तकनीकी update, और संगठनात्मक व्यवस्था के बारे में अद्यतित (update) रहना चाहिए.  जिसके लिए संगठनों के द्वारा आयोजित किए जाने वाले सेमिनार, कार्यशाला, और पेशेवर मंचों में भाग लेना चाहिये.

नेटवर्किंग: एचआर क्षेत्र में नेटवर्किंग महत्वपूर्ण है. आपको अपने ब्रांड को बढ़ाने और अनुभव साझा करने के लिए संगठन में और बाहर के व्यक्तियों के साथ नेटवर्क बनाना चाहिए. नेटवर्किंग आपको अनुभवी और सफल HR पेशेवरों से मिलने और उनसे सीखने का अवसर देगा.

एचआर मैनेजर के कार्य

एचआर मैनेजर की यह सभी कार्य होते हैं.

  • रिक्रूटमेंट और सेलेक्शन: HR मैनेजर का मुख्य कार्य उचित और क्षमतापूर्वक उम्मीदवारों को चुनना और भर्ती करना होता है. वे नौकरी विज्ञापन तैयार करते हैं, सिलेक्शन प्रोसेस आयोजित करते हैं और नई और प्रतिष्ठित स्तर के कर्मचारियों को चुनते हैं.
  • कर्मचारी विकास और प्रशिक्षण: HR मैनेजर नए कर्मचारियों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम योजना बनाते हैं और मौजूदा कर्मचारियों की प्रगति के लिए प्रशिक्षण और विकास की व्यवस्था करते हैं.
  • कार्यसंगठन विकास: इनकी जिम्मेदारी यह भी होती है कि वे कार्यसंगठन के विभिन्न पहलुओं में सुधार करें और कर्मचारियों को संगठित रखें. यह संगठनात्मक क्षमता, कला और संगठनात्मक अभिवृद्धि जैसे क्षेत्रों को समाविष्ट करता है.
  • कंपनी नीति और नियम: HR मैनेजर कंपनी के नीति और नियमों को विकसित और प्रबंधित करते हैं। वे कंपनी की नीतियों को बनाने और अपडेट करने में सहायता करते हैं और कर्मचारियों के लिए नियमों का पालन सुनिश्चित करते हैं।
  • कर्मचारी समर्थन और प्रबंधन: HR मैनेजर कर्मचारियों के साथ निरंतर संपर्क में रहते हैं और उनके मामलों, समस्याओं और आवश्यकताओं का समाधान प्रदान करते हैं. वे कर्मचारियों के लिए एक सहायता और सलाह स्रोत के रूप में काम करते हैं और कर्मचारी कल्याण के लिए कार्यक्रम और उपलब्धियों का निर्माण करते हैं.
  • कानूनी पालना: HR मैनेजर को कानूनी मामलों और श्रमिक नियमों के लिए जागरूक रहना चाहिए. वे कार्यदायी होते हैं जो कंपनी में नियमितता का पालन करते हैं और कर्मचारियों की सुरक्षा और अधिकारों की सुरक्षा सुनिश्चित करते हैं.
  • कर्मचारी प्रबंधन: एचआर मैनेजर को कर्मचारी सम्बंधित मामलों का प्रबंधन करना होता है, जैसे कि कार्यकाल, समय-बँधन, उत्पादकता, कार्यालयी संगठन, संगठनात्मक संघर्ष, अनुशासन नियम, और कर्मचारी की संतुष्टि आदि.
  • कर्मचारी लाभांश और वेतन प्रबंधन: एचआर मैनेजर को कर्मचारियों के लाभांश, वेतन संरचना, वेतन बढ़ोतरी, बोनस, इंसेंटिव, और अन्य वेतन सम्बंधित मुद्दों का प्रबंधन करना होता है.
  • कर्मचारी संगठन: एचआर मैनेजर को कर्मचारियों के संगठनात्मक विकास का समर्थन करना होता है, जैसे कि कार्यकाल योजना, करियर पथ विकास, प्रदर्शन मूल्यांकन, स्किल विकास, और संगठनात्मक प्रगति.
  • नीति और प्रक्रिया विकास: एचआर मैनेजर को संगठन के नीति और प्रक्रिया का विकास करना होता है, जिसमें संगठनीय नीतियों, कर्मचारी संबंधित नियम, कानूनी पाबंदियों का पालन, और श्रमिक संबंधित अधिकार शामिल होते हैं.

एचआर मैनेजर बनने के लिए स्किल्स

एचआर मैनेजर बनने के लिए कई सारे स्किल्स की भी जरूरत होती हैं:

HR एक कौशल-मुख्य क्षेत्र है और यहां कुशलता प्राप्त करना महत्वपूर्ण है. आपको लोगों के साथ मिलनसार रवैया, समस्याओं का समाधान करने का क्षमता, कम्यूनिकेशन कौशल, टीम नेतृत्व, और लोगों की आवश्यकताओं को समझने की क्षमता होनी चाहिए. कौशलों को विकसित करने के लिए संबंधित कोर्स या कार्याशालाओं में भाग लेना चाहिए.

HR Manager को मानव संसाधन प्रबंधन के सिद्धांतों, नीतियों, और अच्छी प्रथाओं का ज्ञान होना चाहिए. उन्हें कर्मचारी की भर्ती, प्रशिक्षण, संगठनात्मक विकास, समस्या प्रबंधन, और संघर्ष प्रबंधन के क्षेत्र में माहिर होना चाहिए. और साथ ही साथ सुनने, बोलने, और समझने की क्षमता भी अच्छी होनी चाहिए.

ह्यूमन रिसोर्स मैनेजर बनाने के लिए कोर्सेज

Human Resource Manager बनने के लिए मुख्य रूप से 3 तरीके का कोर्स लोग कर रहे हैं.

  • Diploma / Certification Courses
  • Bachelor’s Degree
  • Master’s Degree

Undergraduate Courses:

  • Bachelor of Business Administration (BBA)
  • Bachelor of Business Studies (BBS)
  • Bachelor of HR Management (BHRM)

Postgraduate Courses:

  • Master of Business Administration (MBA)
  • Master of Business Studies (MBS)
  • Master of HR Management (MHRM)

Diploma /Certification Courses:

  • Diploma in HR Management (DHRM)
  • Diploma in Human Resource Development (DHRD)
  • Diploma in Labor and Employment Law (DLEL)

इन कोर्सेज की अवधि, प्रवेश प्रक्रिया और फीस संस्थान और विश्वविद्यालय के आधार पर भिन्न हो सकती हैं. इसलिए, आपको उचित जानकारी के लिए विश्वविद्यालयों और प्रशिक्षण संस्थानों की वेबसाइट या प्रशिक्षण संस्थानों से संपर्क करना चाहिए.

HR के लिए Top Colleges/ Universities की लिस्ट

अपने इच्छुक कॉलेज में दाखिला लेने के लिए पूरी इंफॉर्मेशन जानने के लिए जैसे- फीस, स्कॉलरशिप, एडमिशन प्रोसीजर आदि के बारे में जानने के लिए कॉलेज के साथ दिए गए लिंक पर क्लिक करके आप पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

एचआर मैनेजर कहां-कहां पर अप्लाई कर सकते हैं

एचआर (मानव संसाधन) मैनेजर कई विभिन्न कंपनियों और उद्योगों में काम कर सकते हैं। यहां कुछ प्रमुख क्षेत्रों के उदाहरण दिए गए हैं जहां एचआर मैनेजर की आवश्यकता होती है:

निर्माण उद्योग: निर्माण उद्योग में एचआर मैनेजर की आवश्यकता होती है, जहां वे लोगों के भर्ती, प्रशिक्षण, कर्मचारी रखरखाव, मनोविज्ञान, कार्यकारी विकास और श्रम समस्याओं को संभालते हैंडल भी.

IT और सॉफ्टवेयर कंपनियां: IT और सॉफ्टवेयर कंपनियों में एचआर मैनेजर टैलेंट एक्कटिवमेंट, कर्मचारी विकास, प्रबंधन की नीतियों का पालन, और कर्मचारी कल्याण के लिए जिम्मेदार होते हैंहैं.

वित्तीय सेवाएं: वित्तीय सेवा कंपनियों और बैंकों में एचआर मैनेजर की आवश्यकता होती है जहां उन्हें भर्ती, प्रशिक्षण, प्रदर्शन मैनेजमेंट, भुगतान नियमन और कर्मचारी कल्याण सुनिश्चित करने का काम करना पड़ता है.

स्वास्थ्य सेवाएं: अस्पताल, चिकित्सालय आदि जगहों पर भी एचआर मैनेजर की पोस्ट होती जहाँ के लिए आप apply कर सकते हैं.

नौकरी पोर्टल और आउटसोर्सिंग कंपनियां: नौकरी पोर्टल और आउटसोर्सिंग कंपनियों में एचआर मैनेजर भर्ती प्रक्रिया, प्रबंधन विकास, कर्मचारी समस्याओं का समाधान और कर्मचारी सुविधाओं के लिए जिम्मेदार होते हैं.

वित्तीय संस्थान: बीमा कंपनियों, पेंशन निधियों, निवेश बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थानों में एचआर मैनेजरों की आवश्यकता होती है. वे भर्ती, कर्मचारी रखरखाव, प्रशिक्षण, नीति पालन, और कर्मचारी कल्याण के लिए जिम्मेदार होते हैं.

उद्योगों के अन्य क्षेत्र: एचआर मैनेजर अन्य उद्योगों जैसे निर्यात-आयात, वित्तीय सेवाएं, हॉस्पिटैलिटी, रिटेल, टेलीकम्यूनिकेशन, इंजीनियरिंग, टेक्नोलॉजी, और एयरलाइन्स में भी काम कर सकते हैं.

एचआर मैनेजरों की सैलरी कितनी होती हैं?

भारत में एचआर मैनेजरों की सालाना आय के रूप में मद्धेन आदेश (Minimum Wages Act) द्वारा न्यूनतम वेतन स्तरों की निर्धारण की जाती है. इसके अलावा, बड़ी कंपनियों और उद्योगों में एचआर मैनेजरों की सैलरी का स्तर उच्च हो सकता है और वे आगामी प्रोफेशनल विकास और अनुभव के आधार पर वृद्धि कर सकते हैं.

सामान्यतः, एचआर मैनेजरों की सैलरी के रूप में वेतनमान का समावेश किया जाता है, जो आधारभूत वेतन, भत्ते, आवास, मेडिकल लाभ, पेंशन, अवकाश, बोनस, इंसेंटिव्स, कंपनी की नीतियों आदि के अनुसार भिन्न-भिन्न हो सकता है.

एचआर मैनेजरों की सालाना सैलरी का माध्यमिक स्तर लगभग 7 लाख रुपये से 15 लाख रुपये तक हो सकता है.

यह संख्या उद्योग, कंपनी का आकार, स्थान, अनुभव और योग्यता के आधार पर भिन्न हो सकती है. शीर्ष स्तर के एचआर मैनेजरों की सैलरी साधारणतः 20 लाख रुपये से अधिक हो सकती है, लेकिन इसे उच्चतम पदों और विशेषताओं के साथ जोड़कर बढ़ाया जा सकता है.

इसे निम्न प्रकार समझे:

  • एग्जीक्यूटिव रिक्रूटर सैलरी – 4 से 5 लाख रुपए प्रति वर्ष
  • एचआर एग्जीक्यूटिव सैलेरी: 4 से 6 लाख रुपए प्रति वर्ष
  • एचआर मैनेजर सेलरी: 8 से 10 लाख रुपया प्रीतिवर्ष.
  • बिजनेस डेवलपमेंट मैनेजर सैलेरी- 5 से 7 लाख रुपए प्रति वर्ष
  • एचआर असिस्टेंट सैलरी: 6 से 8 लाख रुपए प्रति वर्ष
  • एचआर कंसलटेंट सैलेरी: 5.5 से 7 लाख रुपए प्रति वर्ष
  • ट्रेनिंग एंड डेवलपमेंट मैनेजर सैलेरी: 8 से 10 लाख रुपए प्रति वर्ष

इसे भी देखे:

इसे भी पढ़े,

अक्शर पूछे जाने वाले प्रश्न: FAQs

Q. 12वीं के बाद HR मैनेजर कैसे बने?

12वीं के बाद मैनेजर बनने के लिए कुछ मुख्य चरण हैं: स्नातक की पढ़ाई, व्यापारिक प्रशिक्षण, अनुभव प्राप्त करें, उच्च शिक्षा योजना बनाएं, नौकरियों में स्थानांतरण करें.

Q. HR प्रबंधक क्या होता है और वह क्या काम करता है?

HR (मानव संसाधन) प्रबंधक की जिम्मेदारी एक संगठन के मानव संसाधन विभाग के विभिन्न पहलुओं का प्रबंधन करना होता है। उन्हें भर्ती, कर्मचारी संबंध, प्रशिक्षण और विकास, मुआवजा और लाभ, नीति कार्यान्वयन आदि से संबंधित कार्यों का संचालन करना पड़ता है.

Q. HR प्रबंधक बनने के लिए कौन-कौन सी योग्यताएं आवश्यक होती हैं?

व्यवसाय और उसकी आवश्यकताओं पर निर्भर करता है, लेकिन सामान्य रूप से, एक HR प्रबंधक बनने के लिए मानव संसाधन, व्यवसाय प्रशासन या संबंधित क्षेत्र में स्नातक की डिग्री पसंद की जाती है. कुछ कंपनियों को उपयुक्त कार्य अनुभव या HR में पेशेवर प्रमाणपत्र भी देखने की संभावना होती है.

Whatsapp GroupJoin
Telegram channelJoin

Leave a Comment