LLB क्या है और कैसे करे: जाने करियर की पूरी जानकारी

Whatsapp GroupJoin
Telegram channelJoin

बेहतर वकील बनने के लिए वकालत की पढ़ाई करना महत्वपूर्ण है. क्योंकि, डिग्री के बिना वकालत करने की अनुमति सरकार द्वारा प्राप्त नही होती है. इस सम्बन्ध में Students अक्शर पूछते है कि LLB Kaise kare. क्योंकि इसी Course के माध्यम से वकील बना जा सकता है.

LLB Course क़ानूनी क्षेत्र में कार्य करने का एक मौका प्रदान करता है. यदि आप एग्जाम Qualify करते है, तो सरकारी विभाग के अन्य क्षेत्र में Jobs प्राप्त करने का मौका मिलता है. एल.एल.बी, वकील बनने एवं उसे सुचारू से व्यवस्थित करने का रास्ता प्रदान करता है जिससे बेहतर वकील बन सकते है.

एल.एल.बी पूरा करने के बाद बार काउंसलिंग ऑफ इंडिया में स्वयं को पंजीकृत कर अपने Skills को प्रभावी ढंग से व्यक्त सकते है. जो वकालत की प्रमुख भाग है. और यही प्रक्रिया LLB course के माध्यम Students को प्रदान किया जाता है. ताकि वे वकालत में महारथ हासिल करे.

LLB क्या है?

एल एल बी एक अंडरग्रेजुएट डिग्री Course है जिसे दो भागो में विभक्त किया गया है. अर्थात, LLB को 3 वर्ष या 5 में पूर्ण किया जा सकता है. यदि कोई Students 12 वी के बाद LLB करना चाहता है, तो उसे 5 वर्ष का समय लगेगा. लेकिन यदि ग्रेजुएशन के बाद किया जाए, तो केवल 3 वर्ष का समय लगता है.

LLB का पूरा नाम बैचलर ऑफ़ लॉ होता है. लेकिन लैटिन भाषा में इसे “Legum Baccalaureus” यानि लेगम बेकालयुरेस कहा जाता है. साथ ही इसे कानून नियमों (Rules) और विनियमों (Regulations) का एक समूह भी कहा जाता है.

इस कोर्स के अन्दर विभिन्न प्रकार के विषय उपलब्ध है जो कानून व्यवस्था को भिन्न-भिन्न प्रकार से समझने में मदद करते है. यह करियर के दृष्टिकोण से बेहद खास है. क्योंकि, इसमें वकील जैसे प्रोफेशन जॉब और सेंट्रल, स्टेट लेवल या लोकल अथॉरिटीज के लिए काम करने का मौका भी मिलता है. जो भविष्य को एक नई ऊंचाई प्रदान करता है.

LLB का फुल फॉर्म क्या है?

भारत में LLB का महत्व इसके नाम से पता चलता है कि यह Course बेहतर करियर के लिए कितना प्रभावी है. Students पूछते है कि LLB का फुल फॉर्म क्या है. इसलिए, इसका फुल Name यहाँ उपलब्ध किया गया है.

LLB का फुल फॉर्म अंग्रेजी में बैचलर ऑफ़ लॉ यानि Bachelor of Law तथा लैटिन भाषा में Legum Baccalaureus और हिंदी में कानून का स्नातक होता है. इसके फुल फॉर्म में भिन्नता देखने को मिलता है. इसलिए, निचे सभी संभावित फुल फॉर्म दिया गया है.

 एल.एल.बी का फुल फॉर्म हिंदी मेंकानून का स्नातक
दूसरा Full formविधायी कानून में स्नातक
विधायी कानून का स्नातक
LLB का फुल फॉर्म अंगरी मेंBachelor of Law
दूसरा LLB का फुल फॉर्मBachelor of Legislative Law

जरुर पढ़े, M.Sc क्या है

वैसे LLB का मुख्य फुल फॉर्म Bachelor of Laws है. लेकिन सटीक फुल फॉर्म Legum Baccalaureus को ही माना जाता हैं. लेकिन इसके अन्य Full Forms भी प्रचलन में हैं. जो इस प्रकार है.

1. Bachelor of Legislative Law
2. Latin Legum Baccalaureus
3. Bachelor of Liberal Laws

LLB कैसे करे?

एल.एल.बी करने के लिए 12वीं या ग्रेजुएशन पास होना आवश्यक होता है. उसके बाद CLAT (Common Law Admission Test) प्रवेश परीक्षा देनी होती है. इस परीक्षा में सफल होने के बाद लॉ कॉलेज में प्रवेश मिलता है. यह प्रक्रिया लगभग सभी कॉलेज में समान होता है.

CLAT परीक्षा देने के लिए 12वीं या ग्रेजुएशन में कम से कम 45-55% मार्क्स होना अनिवार्य है. भारत में LLB Entrance Exam CLAT का आयोजन NLU (नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी) द्वारा किया जाता है. जिसका उदेश्य LLB संस्थानों में प्रवेश दिलाना होता है.

LLB कैसे करे के सन्दर्भ में कुछ आवश्यक तथ्य इस प्रकार है.

  • सबसे पहले इंटरमीडिएट कंप्लीट करें
  • एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करे
  • एग्जाम पैटर्न को समझे
  • अर्थात, Syllabus का ध्यान रखे
  • एग्जाम क्लियर होने के बाद एडमिशन लें.

एल.एल.बी करने के लिए कुछ आवश्यक Certificate और योग्यता की जरुरत होती है. जिसकी जानकारी निचे नियमबद्ध तरीके से उपलब्ध है.

LLB के लिए योग्यता

कई बार योग्यता, कॉलेज के अनुसार भी तय होता है. लेकिन यहाँ सामान्य रूप से लगने वाले योग्यता को ही दर्शाया गया है.

एलएलबी करने के लिए कम सेकम 12th का सर्टिफिकेट होना अनिवार्य है.
अगर 12th के बाद LLB की पढाई करना चाहते हैं, ये आपके लिए 5 पांच वर्ष का होगा.
12th में कम से काम 50% मार्क्स होना जरूरी है.
ग्रेजुएशन के बाद LLB कर सकते है.
Graduate डिग्री के साथ LLB 3 वर्ष का होता है.
अगर ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी कोर्स किया जाए, तो ग्रेजुएशन में कम से कम मार्क्स 50% होना चाहिए.
एलएलबी करने के लिए कोई आयु सीमा निर्धारित नही है.
LLB को बेहतर समझ के साथ पूरा करने के लिए Communication Skills आवश्यक है.

LLB प्रवेश परीक्षा

एल.एल.बी मे प्रवेश पाने के लिए एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना आवश्यक है. एंट्रेंस एग्जाम अलग-अलग यूनिवर्सिटी द्वारा आयोजित की जाती है. यहाँ कुछ Famous Entrance Exam का list दिया गया है. जिसके बारे जानना और समझना महत्वपूर्ण है.

  • CLAT
  • AILET
  • LSAT
  • DU Entrance 
  • AIBE
  • ILSAT
  • ILI CAT

LLB एग्जाम पैटर्न को समझे

एग्जाम देने से पहले LLB एग्जाम पैटर्न को समझना प्रत्येक Students के लिए आवश्यक है. दरअसल, CLAT का एग्जाम 2 घंटे का होता है, जिसमे 200 मार्क्स के सवाल पूछे जाते है.

यह एग्जाम पूरी तरह से ऑब्जेक्टिव होता है और इस एग्जाम को सिर्फ इंग्लिश मीडियम में ही दे सकते है. इसलिए, इंग्लिश स्किल का भी होना आवश्यक है.

यह एग्जाम ऑफलाइन होता है और हर सही जवाब पर 1 मार्क्स दिया जाता है वहीं गलत जवाब देने पर 0.25 मार्क्स काटे जाते है. CLAT का एग्जाम हर साल होता है.

LLB सिलेबस क्या है?

LLB, 3 और 5 वर्ष का होता है. यदि आप ग्रेजुएशन के बाद LLB के लिए Apply करते है, तो आपके लिए यह 3 वर्ष का होता है. इसमें 6 सेमेस्टर होते है, जिसमे निम्न विषय Semester Wise होते है.

LLB Subjects 1st Semester
श्रम कानून
परिवार कानून -1
अपराध
अनुबंध का नियम -1
वैकल्पिक कागजात
विश्वास
महिला और कानून
अपराध
अंतर्राष्ट्रीय अर्थशास्त्र कानून
एल.एल.बी 2nd सेमेस्टर
परिवार कानून -2
टॉर्च एंड कंज्यूमर प्रोटक्शन एक्ट का कानून
व्यावसायिक नैतिकता
संवैधानिक कानून
LLB 3rd सेमेस्टर
पर्यावरण कानून
मानवाधिकार अंतरराष्ट्रीय कानून
मध्यस्थता, सुलह और वैकल्पिक
साक्ष्य का कानून
LLB 4th सेमेस्टर
बौद्धिक संपदा कानून
कानूनों का टकराव
संपत्ति कानून सहित संपत्ति कानून का हस्तांतरण
विधिशास्त्र
व्यवहारिक प्रशिक्षण -कानूनी सहायता
अनुबंध -2 का नियम
वैकल्पिक कागजात कोई भी
तुलनात्मक कानून
बीमा का कानून
एल.एल.बी 5वा सेमेस्टर
प्रशासनिक कानून
कानूनी लेखन
नागरिक प्रक्रिया संहिता सीपीसी
सीलिंग और अन्य स्थानीय कानूनों सहित भूमि कानून
विधियों की व्याख्या
एल.एल.बी 6वा सेमेस्टर
परक्राम्य लिखित अधिनियम सहित बैंकिंग कानून
कराधान का कानून
वैकल्पिक कागजात (कोई भी)
प्रैक्टिकल ट्रेनिंग मूट कोर्ट
आपराधिक प्रक्रिया संहिता
सहकारी कानून
निवेश और प्रतिभूति कानून
व्यावहारिक प्रशिक्षण प्रारूपण
कंपनी लॉ

LLB में कौन-कौन से Subject होते है?

एल.एल.बी के अध्ययन के दौरान निम्न प्रकार के Subjects पढ़ाएँ जाते है. इन सभी Subjects का प्रयोग लॉ के दौरान होता है. इसलिए, इन सभी विषयों में महारथ हासिल करना महत्वपूर्ण है.

  • बौद्धिक संपदा कानून
  • कराधान का कानून
  • बैंकिंग कानून
  • साक्ष्य का कानून
  • पर्यावरण कानून
  • पारिवारिक कानून
  • प्रशासनिक कानून
  • राजनीतिक विज्ञान
  • कानूनी तरीके
  • मुकदमे की पैरवी
  • विधिशास्त्र
  • अपराध
  • कानूनी लेखन
  • मानवाअधिकार और अंतरराष्ट्रीय कानून

LLB की फीस कितनी है?

University के Fees क्राइटेरिया सरकारी लॉ कॉलेज और निजी लॉ कॉलेजों के आधार पर होते है. यह एंट्रेंस एग्जाम द्वारा डायरेक्ट ऐडमिशन और सिलेक्टेड छात्रों पर भी निर्भर है. फीस भी कॉलेज पर निर्भर करता है. अर्थात, कॉलेज अपने Facility के अनुसार ही Fees Decide करते है.

ParticularsBBA-LL.B (Hons.) /
BA-LL.B (Hons.)
(10 semesters) 12th Level
LLB fee
(6 semesters) Graduation Level
Program Fees (Semester)Rs. 23,000 -35,00023,000-45,000
Program Fees (Full course fees)Rs. 2,30,000-3,50,0001,38,000-2,50,000

LLB के बाद करियर या Jobs

एल.एल.बी करने के बाद LLM और PHD भी किया जा सकता है. क्योंकि, यह Course वकालत के लिए सबसे बेस्ट होता है. इसके बाद Judiciary यानि न्यायपालिका की परीक्षा देकर जज बनने के लिए भी आवेदन कर सकते है.

LLB क्लियर करने के बाद अन्य करियर विकल्प भी उपलब्ध है जिसमे बेहतर jobs प्राप्त कर सकते है. यहाँ कुछ jobs profiles का list उपलब्ध है.

  • कनिष्ठ न्यायिक सहायक
  • सहायक न्यायालय सचिव
  • सपथ आयुक्त
  • फौजदारी अधिवक्ता
  • सिविल अधिवक्ता
  • पारिवारिक अधिवक्ता
  • सहायक अभियोजन
  • क्लर्क
  • अन्य लॉ संबंधित पद
  • उप‌ विधिक प्रबंधक
  • लीगल चीफ जनरल मैनेजर
  • वरिष्ठ कानूनी अधिकारी
  • लीगल अफसर
  • कानूनी सलाहकार
  • बोर्ड में विधिक अधिकारी
  • वरिष्ठ विधि अधिकारी
  • बीमा अधिवक्ता
  • बैंक अधिवक्ता
  • लॉ डिपार्टमेंट
  • ऑफिस क्लर्क
  • लेक्चरर
  • क्लेम मैनेजर
  • लीगल जनरल मैनेजर
  • लीगल एडवाइजर

दिए गए jobs profile में LLB के बाद बेहतर पैकेज वाला jobs प्राप्त कर सकते है.

अंतिम शब्द

LLB Course के माध्यम आपने पढ़ा LLB क्या है, LLB Kaise Kare. CLAT एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करने के बाद आप किसी भी कॉलेज में एडमिशन प्राप्त कर सकते है. Course Fee कॉलेज के अनुसार तय किया जाता है. जो लगभग 2 से 4 लाख होते है. ये इससे भिन्न भी हो सकता है निर्भर करता है कि कॉलेज कैसी Facility प्रदान करते है.

उम्मीद करता हूँ कि ये पोस्ट आपको पसंद आया होगा. क्योंकि, LLB Course Details in Hindi के सभी जानकारी नियमा अनुसार उपलब्ध है. यदी कोई संदेह हो, तो कृपया हमें कमेंट अवश्य करे.

Also Read,

NDA क्या है और कैसे करेHotel Management Course कैसे करे
टॉप 7 डिप्लोमा कोर्सेज Polytechnic क्या है और कैसे करे
B.Ed क्या है और कैसे करेB.Tech क्या है और कैसे करे

अक्शर पूछे जाने वाले प्रश्न: FAQs

Q. LLB कितने साल का होता है?

LLB कोर्स दो प्रकार का होता है, यदि 12वी के बाद LLB करते है, तो उसकी अवधी 5 वर्ष की होती है तथा ग्रेजुएशन के बाद करते है, तो उसकी अवधी 3 वर्ष होती है.

Q. एलएलबी में क्या पढ़ाया जाता है?

LLB में छात्रों को कॉर्पोरेट, लेजिस्लेटिव, बिज़नेस और अन्य विभिन्न प्रकार के कानून के नियमों को पढ़ाया जाता है.

Whatsapp GroupJoin
Telegram channelJoin

Leave a Comment