Graduation क्या है | Graduation करना जरुरी क्यों है

What is Graduation in Hindi

हर स्टूडेंट्स के पास एक अलग मानसिकता होता है जो उन्हें किसी चीज के बारे में जानकारी एकत्रित करने के लिए प्रेरित करता है, जिससे उनके नॉलेज में बृद्धि हो सके. यह प्रक्रिया उनके सोच पर निर्भर होता है की उनकी मानसिकता क्या है. विद्वानों के अनुसार यही सोच विद्यार्थियों को उच्च एवं प्रभावशाली बनाती है.

ग्रेजुएशन सिर्फ एक पढ़ाई का जरिया नही है बल्कि यह आपको सुनिश्चित कराता है कि अब आप व्यस्क (Young) हो गए है. अपनी कुशल सोच एवं समृधि के साथ अपना फ्यूचर प्लान खुद बना सकते है. इसलिए, पहले वास्तिविकता को पहचाने फिर करियर सुनिश्चित करे.

स्टूडेंट्स होने के नाते हमें उस फील्ड की जानकारी होनी चाहिए जिसके साथ हम अपने फ्यूचर को आगे बढ़ान चाहते है. इस प्रक्रिया को पूरा करने के लिए आपको ग्रेजुएशन से सम्बंधित सभी जानकारी यहाँ दिया जा रहा है कि वास्तव में ग्रेजुएशन क्या है और करना जरुरी क्यों है.

Graduation क्या है? | Graduation Details in Hindi

What is Graduation in Hindi
About Graduation

ग्रेजुएशन 12th के बाद किया जाने वाला डिग्री कोर्स है जिसे इंडिया में बैचलर डिग्री को ग्रेजुएशन कहा जाता है. सामान्यतः ग्रेजुएशन 3 वर्ष का होता है लेकिन कुछ स्थिति में यह 4 वर्ष या 5 वर्ष का भी होता है. ग्रेजुएशन की अवधि डिग्री यानि कोर्स के चयन प्रक्रिया के अनुरूप अलग-अलग होता है.

जैसे; यदि आप 12th के बाद engineering करना चाहते है तो ये आपके लिए 4 years का होगा और यदि Medical करना चाहते है तो ये 5 years का होगा और यदी 12th के बाद आप डायरेक्ट LLB करना चाहते है तो ये कोर्स आपके लिए 5 years का हो जायेगा.

लेकिन आप B.Sc, B.Com और BA जैसे प्रोफेशनल कोर्सेज के साथ जाना चाहते है तो सामान्यतः ये 3 years का ही होता है.

B.Sc क्या है और करना क्यों जरुरी है कि पूरी जानकारी जरूर पढ़े। इस एक पोस्ट में

ग्रेजुएशन के लिए योग्यता

ग्रेजुएशन करने के लिए इसका कोई specific conditions नही होता है की आपको किसी पर्टिकुलर स्ट्रीम से ही करना है. आप 12th के बाद किसी भी स्ट्रीम से अपना ग्रेजुएशन पूरा कर सकते है जैसे; Arts, Commerce, Science, Computers, Mass Media, Journalism, Management, Engineering, Medical, Law, Farmency and Designing आदि

ग्रेजुएशन अपने आस पास के यूनिवर्सिटी या उससे सम्बंधित कॉलेज से कर सकते है लेकिन एडमिशन या एंट्रेंस एग्जाम देने से पहले एक बात ध्यान में अवश्य रखे. आप जिस कॉलेज में एडमिशन लेने जा रहे है या फिर एडमिशन लेने वाले है. उससे पहले यह सुनिश्चित अवश्य करे कि यूनिवर्सिटी UGC (University Grants Commission) से recognized है या नही.

ऐसी स्थिति की जानकारी आपको पहले कर लेना चाहिए ताकि बाद में किसी भी तरह की यूनिवर्सिटी या कॉलेज से रिलेटेड प्रोब्लेम्स का सामना न करना पड़े. अगर आप UGC की updates या किसी भी तरह की जानकारी जानना चाहते है तो आप इसके ऑफिसियल वेबसाइट से जानकारी पा सकते है.

इसी प्रकार जिस कॉलेज से आप Engineering या Medical करना चाहते है, वह कॉलेज AICTE ( All India Council For Technical Education ) से recognized होना चाहिए. फार्मा PCI ( Pharmacy Council For India ) से, LLB कोर्स BCI ( Bar Council For India ) से तथा B.Ed course NCTE ( National Council Teacher Education ) से recognized होना चाहिए क्योकि कॉलेजों के recognized होना privicy के लिए बहुत जरुरी होता है.

Graduate होना जरुरी क्यों है?

हमारे देश में जॉब opportunities की क्या संभावनाए है इससे कोई भी बेखबर नही है, हलाकि ये सभी जानते है कि इंडिया में जॉब लेना कितना मुश्किल काम है और ऐसे में बिना ग्रेजुएट candidates, जॉब लेने की कोशिश करे तो आपको पता ही है कि उसकी चांसेस कितना हो सकता है ये आप भालीभाती समझते है.

और अगर दुसरे नजर से देखा जाए तो आजकल हर बड़ी कंपनियां ज्यदातर ग्रेजुएट candidates को ही देख रही है यानि जिस candidates के डिग्री में सामान्यतः B लगा हो वह candidates, कंपनी के लिए सही हो सकता है, B का मतलब ग्रेजुएट होता है जैसे; B.A, B.Com, B.C.A, B.B.A, BE, B.Tech, MBBA, B.Pharma, B.Ed, BMS, LLB, आदि.

अगर बात की जाए 12th पास candidates की तो एक ज़माने में उन्हें अच्छी नौकरी मिल जाती थी लेकिन इस competative वर्ल्ड में नौकरी लेना हर किसी के लिए मुश्किल हो गया है इसलिए आपको कम से कम ग्रेजुएट होना ही चाहिए, क्योकि आजकल अच्छी कंपनीयो में बैचलर डिग्री जरुरी हो गया है.

BA क्या है कैसे किया जाता है Complete Details About BA, Courses, Fee Opportunities

ग्रेजुएशन का मतलब सिर्फ डिग्री लेना नही है बल्कि करियर के दृष्टीकोण से आपको एक रास्ता प्रदान करता है जिससे अपने खुशनुमा भविष्य का एक मजबूत प्रतिबिम्ब स्थापित किया जा सकता है. यह उच्च शिक्षा एवं करियर गाइड उपस्थित कराता है. इसलिए बेहतर भविष्य के ग्रेजुएशन जैसे डिग्री से पहले ही तैयार रहे.

Conclusion

ग्रेजुएशन की प्रक्रिया करियर के नजर बहुत बड़ा होता है. इसलिए, इसके विषय में सम्पूर्ण जानकारी इक्कठा करे फिर अपने भविष्य के अनुसार करियर चयन करे. यहाँ से एक गलती आपकी जीवन बर्बाद कर सकता है क्योंकि इसके बाद गलती को सही करने के लिए आपको फिर मौका नही मिलेगा. अतः चयन प्रक्रिया पर विश्लेषण करे फिर सुनिश्चित करे.

2 thoughts on “Graduation क्या है | Graduation करना जरुरी क्यों है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *