Advertisements

Maths की तैयारी कैसे करें | गणित समझने का तरीका-Tips & Tricks

गणित के सवाल हल करने के तरीके | math ki taiyari kaise karen | math ko strong kaise banaye | मैथ में तेज कैसे बने | maths kaise strong kare | Maths की तैयारी कैसे करें

मैथ्स एक इंटरेस्टिंग सब्जेक्ट है जो प्राचीन काल ही से हाई स्कोरिंग सब्जेक्ट रहा है, अगर पिछले कुछ वर्षों का रिजल्ट मार्क्स देखा जाए तो सबसे ज्यादा मार्क्स मैथ विषय से ही आए हैं.

इस हिसाब से मैथ्स कठिन विषय होने के बावजूद भी आसान होता है. क्योंकि, गणित के सवाल को हल करने के लिए निरंतर अभ्यास की आवश्यकता होती है. अगर कोई विद्यार्थी निरंतर अभ्यास करता है तो उसके लिए गणित का सवाल एकदम आसान हो जाता है. 

बहुत सारे विद्यार्थी मैथ्स विषय का नाम सुनकर घबराने लगते हैं कि मैथ्स के सवाल कठिन होता है मैं इसे solve नहीं कर सकता,मुझे मैथ्स समझ में नही आता आदि. गणित की तैयारी करने के लिए बहुत सारे आसान तरीके हैं जिसका उपयोग कर गणित की तैयारी अच्छे से किया जा सकता है.

इस संबंध में विद्यार्थी बहुत सारे प्रश्न पूछते हैं जैसे मैथ्स को स्ट्रांग कैसे करें, मैथ्स को कैसे improve करें, मैथ्स में इंटेलिजेंट कैसे बने, मैथ्स में कमजोर विद्यार्थी तेज कैसे बने, मैथ्स का रिवीजन कैसे करें, मैथ्स में मन कैसे लगाएं, मैथ्स को आसानी से कैसे समझें आदि.

ऊपर अंकित किए गए सभी प्रश्न स्टूडेंट के द्वारा सबसे अधिक पूछा जाता है जो हर विद्यार्थी के लिए यह जानना आवश्यक है कि वह Maths की तैयारी कैसे करें, कि अपने एग्जाम में अच्छे मार्क्स से पास हो. इन सभी सवालों का जवाब इस पोस्ट में पढ़ेंगे. मेरा दावा है कि इसके बाद आपका हौसला ही नहीं बढ़ेगा बल्कि आप इसमें एक अव्वल विद्यार्थी भी बनेंगे. Mathematics को इंप्रूव करने के लिए निम्नलिखित टिप्स, जो आपको मैथ्स में एक्सपर्ट बनाएगा.

Maths को समझने का तरीका और Maths improve करने के लिए Tips और Tricks.

मैथ्स उन विद्यार्थियों के लिए आसान विषय होता है जिनकी अंकतालिका अच्छी होती है, मैथ को अच्छे से समझने और बनाने के लिए सबसे पहले आपका  20 तक का टेबल और स्क्वायर एवं स्क्वायर रूट क्लियर होना चाहिए.

साथ ही साथ जोड़ (Addition), घटाव (subtraction), गुणा (Multiplication) और भाग (Division) भी अच्छी तरह से आना चाहिए. अगर आपका ये सभी क्लियर है तो आप आसानी से प्रश्न बना सकते हैं नीचे दिए गए बिंदुओं को ध्यान से पढ़े और उन्हें अमल में लाएं.

गणित समझने का तरीका

  • अंक गणित का फार्मूला याद करे
  • कैलकुलेशन पर मकड़ मजबूत करे
  • थ्योरी ध्यान से पढ़े
  • जोड़, घटाव, गुणा, भाग, टेबल, एवं वर्ग, वर्गमूल पर अच्छी पकड़ बनाए
  • शिक्षक के अनुशार प्रश्न हल करे

अवश्य पढ़े.

गणित की पढ़ाई कैसे करे?

गणित एक ऐसा विषय है जिसे पढ़ने के लिए किसी विशेष ज्ञान की जरूरत नहीं होती है इसे सॉल्व करने के लिए केवल निरंतर अभ्यास की आवश्यकता होती है.

Maths की तैयारी अच्छे से करने के लिए समय सीमा का होना अति आवश्यक है जिसमें कम से कम 2 घंटे का समय निर्धारित हो, अपने क्लास के टॉपिक्स को समयानुसार सॉल्व करने की कोशिश करें.

शुरू में ऐसे प्रश्न के साथ प्रैक्टिस करें जो बनाने में आसान हो, ऐसा करने से आपके अंदर विश्वास पैदा होगा और मैथ के प्रति आपके अंदर उत्साह बढ़ेगा.

अगर आप 10वी क्लास के विद्यार्थी हैं तो आपको हमेशा वैसे टॉपिक के साथ पढ़ाई  शुरू करना चाहिए, जो बनाने में आसान हो. जैसे समीकरण, वास्तविक संख्याएं, बहुपद आदि.

इसे भी पढ़े.

ऐसे प्रश्न को हल करने से अपमें स्पीड और शुद्धता ही केवल नहीं बढ़ेगा बल्कि अपका इंटरेस्ट भी बढ़ेगा. मैथ्स  के प्रति अपना विचार हमेशा स्पष्ट रखें

ताकि विश्वास के साथ बोल सकें कि मैं इस सवाल को सॉल्व कर सकता हूं. यदि मैं कोशिश करूं तो, ऐसा कॉन्फिडेंस तभी आएगा जब आप वास्तव में प्रैक्टिस करेंगे. Maths की तैयारी कैसे करें के लिए निम्न tips को फॉलो करे.

गणित कैसे पढ़े

  • पढ़ने के लिए एकांत स्थान का चुनाव करे
  • पहले उदाहरण हल करे
  • उसके बाद शिक्षक द्वारा बताए गए प्रोसेस फॉलो करे
  • आसन प्रश्नों के साथ गणित का प्रैक्टिस करे

गणित में मन कैसे लगाए?

ऐसी परेशानी किसी एक स्टूडेंट्स का नही होता है बल्कि अधिकतर स्टूडेंट्स के साथ होता है. मैथ्स के सवाल को हल करने से दूर भागते है. ऐसा तभी होता है जब उन्हें डर लगता है या फिर उन्हें कुछ ज्यादा समझ में नही आता.

पर परेशान होने की जरुरत नही है क्योंकि कहा जाता है कि डर के आगे जीत है. इसलिए, हौसला कीजिए और क़दम बढ़ाइए.

जबतक परेशानियों से आपका मुकाबला नही होगा, तब तक आपके अन्दर वो कभी न टूटने वाला विश्वास कहाँ से आएगा.

ऐसा कभी न सोचे की आप उस प्रश्न को हल नही कर पाएंगे वजाए यह सोचे की मैं इसे कैसे solve करू. कौन-से फोर्मुले का इस्तेमाल करू या ट्रिक्स लगाऊ ताकि यह प्रश्न हल हो जाए आदि.

परेशानियाँ होती ही है कुछ सिखाने के लिए, इसलिए उसे हल करने की कोशिश करे. जब परेशानियों को हल करने में सामर्थ्य हो जाएगें तब मैथ्स आपको एकदम आसान सा लगने लगेगा. बेहतर करियर विकल्प के लिए मैथ्स का समझ होना बहुत जरुरी है.

इसलिए, मैं इस बात की गारंटी देता हूँ. अगर आप Maths की तैयारी कैसे करें में बताए गए टिप्स को फॉलो करते है, तो पढ़ाई में मन ही नही लगेगा बल्कि आप मैथ्स में एक्सपर्ट्स भी बन जाएँगे. शर्त यह है अपना स्टडी जारी रखे बिना किसी संकोच के, एक दिन मैथ्स आपका strongest विषय होगा. 

गणित में मन लगाने का तरीका

  • एकांत स्थान का चुनाव अनिवार्य है
  • समय निर्धारित करे
  • हल किए हुए प्रश्न को पुनः हल करे
  • फार्मूला का अवश्य ध्यान रखे
  • आसन एवं हल किए हुए प्रश्न को बार-बार हल करे जब तक वो आपको आसान न लगने लगे

इसे भी पढ़े, NDA की तैयारी कैसे करे

मैथ में तेज कैसे बने | Math Me Topper Banane Ka Tarika

मैथ सबसे आसान विषय है लेकिन उसके लिए जो निम्न शर्तो का पालन करते है.

एक्सपर्ट हमें अपनी काबिलियत से बनाना होता है जो कठिन श्रम से संभव हो पाता है. पर आज से आप भी Topper बन सकते है. Maths फार्मूला पर आधारित प्रश्न होता है जिसे फार्मूला के सहायता से हल करना होता है जिसमे धैर्य, साहस एवं कड़ी मेहनत की आवश्यकता होती है.

प्रत्येक टॉपिक को ध्यानपूर्वक एवं शांतिपूर्ण समझना होता है. Topper बनाने के लिए पहले गणित के प्रत्येक चैप्टर को ध्यानपूर्वक पढ़े तथा समय अंतराल पर रिविजन भी करते रहे. प्रत्येक दिन कम से कम 2-3 प्रश्न हल करने का प्रयास करे.

प्रश्न को नए विधि से हल करने का प्रयास करे, फार्मूला यानि थ्योरी को भी हल करने की कोशिश करे, Math ko Kaise Samjhe के लिए शिक्षक का भी सहायता ले.

ऐसा करना कठिन अवश्य है पर प्रयास जारी रखने से यह आपके लिए एक आसान आवश्य होगा.

गणित में Topper बनाने का टिप्स

  • गणित के बुनियादी टॉपिक पर पहले ही पकड़ मजबूत हो
  • कैलकुलेशन पर बेहतर पकड़
  • साथ ही थ्योरी हल करने की काबिलियत
  • ज्यादातर प्रश्न हल करने का प्रयास
  • 2-4 घंटा मैथ्स के लिए समय निर्धारित करे
  • Notes का प्रयोग करे (प्रॉब्लम वाले प्रश्न को Notes में अंकित करे)
  • Group Discussion प्रत्येक दिन करे
  • Online Sources का उपयोग करे
  • अलग-अलग किताब के साथ प्रैक्टिस करे

अवश्य पढ़े, SSC की तैयारी कैसे करे

Maths का Formula कैसे याद करे?

गणित का फार्मूला याद करने का सबसे आसान तरीका होता है. आप उसके साथ प्रैक्टिस करते रहे, खुद-व-खुद सारे फर्मूला याद हो जाएंगे, जिसे आप आसानी से भूल नहीं पाएंगे.

उदाहरण के तौर पर त्रिकोणमिति के फार्मूला याद करना थोड़ा कठिन लगता है लेकिन जैसे-जैसे हम उसके सवालों को सॉल्व करते आते हैं वैसे वैसे त्रिकोणमिति के सभी फॉर्मूला याद हो जाते हैं.

ठीक उसी प्रकार गणित के फार्मूला याद करने के बजाए प्रैक्टिस करने की कोशिश करें.

मेंसुरेशन, संख्याकी, ज्योमेट्री, आदि के प्रश्नों को हल करने की प्रैक्टिस करें. पर कुछ ऐसे फार्मूला होता है जिन्हें याद करना आवश्यक होता है जैसे  अलजेब्रा के सभी फार्मूले, स्क्वायर, स्क्वायर रूट, टेबल और बहुपद के डिवीजन एवं वृत्त के फार्मूला आदि.

गणित की पढ़ाई 2 तरीके से किया जाता है पहला फॉर्मूला को याद करने के लिए और दूसरा टॉपिक को कवर करने के लिए. फॉर्मूला के याद करने के लिए हम वैसे प्रश्न को हल करते हैं जो पहले से बने हुए होते हैं जिसमें फार्मूला का बार बार प्रयोग करना होता है जो आसानी से याद हो जाते हैं.

फार्मूला याद हो जाने के बाद मैथ्स के सवाल आपके लिए आसान हो जाते हैं,  निरंतर अभ्यास विद्यार्थी को एक्सपर्ट बनाता है इसलिए प्रयास करना कभी ना छोड़े.

गणित का फार्मूला याद करने का ट्रिक

  • टॉपिक को चिन्हित करे
  • टॉपिक के अनुसार फुर्मुला लिखे
  • थ्योरी पर विशेष ध्यान दे
  • खुद से थ्योरी हल करे
  • फार्मूला के उपयोग अनुसार प्रश्न हल करे
  • सबसे महत्वपूर्ण प्रैक्टिस जितना ज्यादा होगा फार्मूला उतना ही लम्बे समय तक याद रहेगा

इसे भी पढ़े, भारत के टॉप 20 कॉलेज कौन-कौन से है

Maths के टॉपिक के अनुसार पढ़ाई करे.

आपने पढ़ने का समय निर्धारित कर लिया कुछ फर्मूला भी याद कर लिए. अब अगला बारी गणित के सवालों को गंभीरता से बनाने की है, ताकि Maths से आपका डर दूर हो सके और इंटरेस्ट बढ़े.

मैथ्स  में अपना पकड़ मजबूत बनाने के लिए टॉपिक के अनुसार पढ़ाई करें आसान क्वेश्चन का एक लिस्ट बनाएं और कठिन प्रश्न का एक अलग लिस्ट बनाएं दोनों तरह के प्रश्नों के साथ समान अवधि में अभ्यास करें ऐसा करके प्रश्नों पर अच्छा पकड़ बना सकते है.

अपने विश्वास को और अधिक बढ़ाने और इम्प्रूवमेंट के लिए महत्वपूर्ण फार्मूला के साथ-साथ द्विपक्षीय सवालो का अध्यन करते रहे.

उदाहरण;  त्रिकोणमिति का टॉपिक आपने हाल ही में पढ़ा है, जो पूरी तरह समाप्त हो चुका है, अब आप Ex के अनुशार पढ़े, जैसे आज Ex 8.1, कल Ex 8.2 आदि. इस तरह से आप पूरे टॉपिक को कवर कर सकते है जो लम्बे समय तक याद रहेगा.

  • महत्वपूर्ण टॉपिक को चिन्हित कर उसे नियमित रूप से पढ़ने की कोशिश करे.
  • पहले आसान टॉपिक को मार्क करे, जैसे 10th क्लास में “समीकरण” और 12th में “मेट्रिक्स” आदि.
  • टॉपिक से सम्बंधित प्रश्न टीचर या दोस्तों से अवश्य पूछते रहे, ताकि आपका कांसेप्ट क्लियर रहे.

पढ़ाई से सम्बन्धी महत्वपूर्ण विचार, अवश्य पढ़े.

गणित की Revision कैसे करे

रिवीजन पढ़ाई का दूसरा पहलू माना जाता है बिना रिवीजन के पढ़ाई का कोई मकसद नहीं होता. जब कुछ नया सीखने को ना मिले और पीछे का पढ़ा हुआ याद रखने में परेशानी हो रही हो, तो रिवीजन ही एक मात्र जरिया है.

 जिसके द्वारा वो सब कुछ याद/solve किया जा सकता है जिसे याद रखने में परेशानी होती है. रिवीजन कई प्रकार से किया जाता है जो समय पीरियड के अनुसार होता है लेकिन यहाँ आप कुछ खास जानेंगे.

पढ़ाए जा रहे टॉपिक के साथ revision करना अच्छे स्टूडेंट की खासियत होता है पर सवाल यह है की मैथ्स की revision कैसे करे.

  • प्रैक्टिस करने का एक समय निर्धारित करे.
  • रिवीजन शुरू करने से पहले कुछ महत्वपूर्ण फोर्मुले को याद कर ले.
  • सबसे पुराने टॉपिक जो पढ़ाया जा चूका है, पहले उसे लिखे गए नोट बुक से अच्छे से देख ले फिर हल करे.
  • ध्यान रखे, समय के अनुशार प्रश्न संख्या को हल करे. (जितना समय वैसे ही प्रश्न)
  • revision नए नोट बुक में ही करे, ताकि बाद में हल किए गए प्रश्न जल्दी मिल जाए.
  • हर बार एक ही बुक से प्रश्न हल न करे. 
  • दुसरे प्रकाशन के मैथ्स बुक के साथ प्रैक्टिस करे.

गणित के सवाल हल करने के तरीके

ऊपर दिए गए तथ्य math ko kaise samjhe या math ki taiyari kaise karen के लिए आवश्यक था. लेकिन, गणित के सवाल को हल करने के लिए विशेष नियम की आवश्यकता होती है. मैथ्स फार्मूला के साथ-साथ इसके प्रयोग को भी समझना आवश्यक है तभी सवाल सरलता से हल हो पाएँगे. यहाँ गणित के सवाल हल करने के तरीके प्रदान किए गए है जिसे फॉलो कर सरलता से प्रश्न हल कर सकते है.

  • प्रश्न को ध्यान से पढ़े एवं समझे.
  • Similar प्रक्रिया का ध्यान रखे.
  • फार्मूला का प्रयोग प्रश्न के अनुसार करे.
  • प्रोसेस के अनुसार फार्मूला का कार्य करे.
  • हल प्रक्रिया ज्यादा Short न करे
  • जोड़, घटाव, गुणा और भाग जैसी प्रक्रिया को सरल रखे.
  • Solution हमेशा Details में ही रखे.
  • यह लगातार प्रैक्टिस से क्लियर होगा. अतः जारी रखे.

अवश्य पढ़े, बिना रुके अंग्रेजी बोलना कैसे सीखे

Final Thoughts

Maths की तैयारी कैसे करें या मैथ में तेज कैसे बने, इसके लिए कड़ी मेहनत के साथ-साथ मैथ्स के प्रति लगन भी होना चाहिए. ऊपर बताए गए टिप्स और ट्रिक्स मैथ्स में एक्सपर्ट्स बनाने के लिए प्रयाप्त है. अगर आप पुरे मन (आत्मविश्वास) से मेहनत करते है, तो आपको ब्रिलियंट बनाने से कोई रोक नही सकता है.

यह आर्टिकल आपके आत्म मनोबल को विकसित करने हेतू है. जो मैथ्स के पढ़ाई करने में मदद करेगा. उम्मीद है कि Maths कैसे strong करे / mathematics improve कैसे करे में दी गए टिप्स पसंद आए होंगे.

12 thoughts on “Maths की तैयारी कैसे करें | गणित समझने का तरीका-Tips & Tricks”

  1. आवश्यक नही की पहले कठिन सवाल ही बनाया जाए, फार्मूला के साथ मैथ्स प्रश्न को हल करने की कोशिश करे. पहले आसान प्रश्न नियम के अनुशार बनाए और प्रश्न हल करने के दौरान दोस्तों से मदद सलाह लेना न भूले. क्योकि प्रश्न की अहिमियत हल करने के प्रयास पता चलता है. प्रश्न हल न होने पर निराश न हो बल्दी पुनः प्रयास करे.

    Reply
  2. Sir mere ko math samjh nhi ata hai matlb mein 7 tak math bahut acche se solv kar leta tha 8 nhi padha sidhe 9 me aya uske baad kaise taise 10 pass 71% se pass kar liya ab mein 12 me hu par 11 me jab mujhe subject choice karna tha to mujhe kuch samjh nhi aa raha tha aur ,mere papa hamesha kahte the ki math me jada score hai isiliye math le liya par lockdown ki wajha se padhai nhi ho pai aur mujhe mathematics hard lagne laga matlb samjh hi nhi ata ki konsa formula kaha par lagau ….etc ab aap batao sir ji mein kya karu money problem ki wajha se choching bhi nhi kar saka aur board exam bhi hone wale hain please sir help me 🙏🙏

    Reply
    • Jarur, Class 10th or 12th maths ke lie ab coaching utna mahatw nhi rakhta, jitna pahle tha. aaj ke samay mein Youtube se bhi aap maths ki tiayari kar skate hai. Lekin maths samajhne ke lie pahle se solve prashn ko banae or thori bahut Youtube ka bhi sahara lein. Sabse jaruri aap koshish karna n chhore. 2 se 4 hours maths pr samay dein.

      Reply

Leave a Comment