SSC की तैयारी कैसे करे – तैयारी करने का आसन तरीका

Whatsapp GroupJoin
Telegram channelJoin

एसएससी की तैयारी कैसे करें, कौन-सी प्रक्रिया और टिप्स अपनाएं ताकि इसकी तैयारी करना मुश्किल से असान हो जाए. यह अवधारणा SSC की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों के मन में बैठ जाता है कि इस ग्रुप की तैयारी करना बहुत मुश्किल होता है.

जिससे वे डरकर विभिन्न विभिन्न स्रोतों के पीछे भागने लगते हैं और ढूंढते हैं एसएससी की तैयारी करने की टिप्स और ट्रिक्स आदि. अलग-अलग स्रोतों से विभिन्न प्रकार की टिप्स मिलते है जिसे पढ़कर और सुनकर वे और कंफ्यूज हो जाते हैं कि कौन सी प्रोसेस को अप्लाई किया जाए और किसे नहीं. 

पर वास्तव में ऐसा कुछ होता नहीं, SSC की तैयारी करना बहुत interesting (मनोरंजन से भरा) और आसान है, बशर्ते मन, स्थिरता और पैशन हो. इन तीनों से दुनिया की वह हर कठिन कार्य को सरल किया जा सकता है जो असंभव लगते हैं. 

हर विद्यार्थी जानते और समझते हैं आज के समय में सरकारी नौकरी लेना कीतना मुश्किल भरा काम है. पर इसका मतलब यह तो नहीं कि आप कर नहीं सकते हैं. करियर से सम्बंधित महत्वपूर्ण कोर्सेज के बारे अवश्य पढ़े.

SSC क्या है?

SSC का गठन 26 सितम्बर 1977 को किया था जो सरकारी नौकरियों में भर्ती करने के लिए एसएससी संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा आयोजित करता है.

कर्मचारी चयन आयोग (SSC) भारत सरकार के अनुरूप विभिन्न-विभिन्न पदों के लिए कर्मचारियों की भर्ती करने के लिए भारत सरकार के अधीन और अधीनस्थ कार्यालयों में एक संगठन है, जो केंद्र सरकार द्वारा समय-समय पर निर्धारित किए जाने वाले नियमों और शर्तों पर नियुक्त किया जाता है.

आयोग को ऐसे सहायक कर्मचारी प्रदान किए जाते हैं जिन्हें केंद्र सरकार द्वारा आवश्यक माना जाता है.

SSC Full Form In Hindi

एसएससी का फुल फॉर्म Staff Service Commission होता है. SSC का नाम, अधीनस्थ सेवा से बदलकर कर्चारी चयन आयोग 1977 में किया गया.

SSC का फुल फॉर्म इंग्लिश में = Staff Selection Commission
SSC का फुल फॉर्म हिंदी में = कर्मचारी चयन आयोग

यहाँ SSC Ki Taiyari Kaise Kare के सम्बन्ध में और भी तथ्य उपलब्ध है जो एग्जाम के लिए आवश्यक है.

SSC द्वारा आयोजित परीक्षा एवं उसके नाम

SSC वर्तमान में DOPT के अनुरूप रूप में कार्य करता है और SSC विभागों, संगठनों में अलग-अलग पदों पर भर्ती के लिए प्रतियोगी परीक्षा आयोजित करता है। पिछले वर्षों में, एसएससी के द्वारा आयोजित की जाने वाली विभिन्न परीक्षाएं, इस प्रकार है.

SSC CGL (Combined Graduate Level Examination)
SSC CHSL (Combined Higher Secondary Level Exam)
SSC Steno (Stenographer C & D)
SSC JE (Junior Engineer)
SSC CAPF (Central Armed Police Force)
SSC JHT (Junior Hindi Translator)
SSC SI (Central Police Organization)
SSC Multitasking Staff
Selection Post
SSC GD Constable

अवश्य पढ़े,

UPSC ExamIIT Exam
CA ExamNEET Exam
PCS ExamIBPS Exam

SSC के लिए योग्यता

एसएससी के लिए आवश्यक योग्यता इसके ग्रुप और पोस्ट के अनुसार अलग-अलग होता है जैसे SSC CGL के लिए योग्यता अंडर ग्रेजुएट या ग्रेजुएट होना आवश्यक होता है एवं अन्य ग्रुप के लिए 12 वीं पास होना अति आवश्यक होता है.लेकिन कैटेगरी के अनुसार आरक्षित वर्गों के लिए योग्यता भिन्न हो सकता है.

SSC के लिए उम्र सीमा कम से कम 18 वर्ष और अधिक से अधिक 32 वर्ष तक होना चाहिए. अधिक जानकारी के लिए आप एसएससी के ऑफिशियल वेबसाइट से संपूर्ण जानकारी इकट्ठा कर सकते हैं. 12वी के बाद टॉप ट्रेंडिंग कोर्सेज आपको अवश्य पढ़ना चाहिए.

SSC का Syllabus

एसएससी के सिलेबस के बारे में पूरी तरह जानकारी होना किसी भी विद्यार्थी के लिए प्लस पॉइंट होता है क्योंकि सिलेबस के अनुसार ही तैयारी अच्छे से किया जा सकता है जब तक सिलेबस के बारे में पूरी तरह जानकारी नहीं होगा तब तक SSC की तैयारी नही पाएगा.

इसलिए आवश्यक है यह जानना की एसएससी की प्रक्रिया क्या होती है. इसकी एग्जाम चार टियर में कराया जाता है. जैसे Tier 1, Tier 2, Tier 3 और Tier 4. SSC सिलेबस की पूरी जानकारी आप यहां से डाउनलोड कर सकते हैं उदाहरण के लिए नीचे टेबल में Tier 1 सिलेबस अंकित किया गया है जिसे समझने में आपको आसानी होगी.

S.N.SectionNumber of QuestionTotal MarksTotal Time
1General Intelligence and Reasoning2550Time 60 minutes for all.
2General Awareness2550Time 60 minutes
3Quantitative Aptitude2550Time 60 minutes
4English Comprehension2550Time 60 minutes

Quantitative Aptitude

SSC CGL मैथ्स की तैयारी के लिए सयम एवं एकाग्रता की आवश्यकता होती है। सबसे महत्वपूर्ण विषय होने के वजह से आपको अधिक ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है.

अवश्य पढ़े, पढ़ाई करने और मन लगाने की टिप्स और ट्रिक्स.

मैथ एक ऐसा विषय है जिसमें जिसमें विद्यार्थी अपना सबसे ज्यादा समय देना पसंद करते हैं इसलिए आप भी टॉपिक के अनुसार मैथ की तैयारी करें और प्रश्न हल करने की स्पीड को कायम रखें इससे प्रश्न को जल्दी हल करने में आपको सहूलियत होगी.

निचे दिए मैथ्स की महत्वपूर्ण टॉपिक पर विशेष ध्यान दे, जैसे;

  • त्रिभुज
  • चतुर्भुज
  • नियमित बहुभुज
  • वृत्त
  • दायाँ प्रिज़्म
  • राइट सर्कुलर कोन
  • राइट सर्कुलर सिलिंडर
  • स्फेयर
  • हाइट्स एंड डिस्टेंस
  • हिस्टोग्राम
  • फ़्रीक्वेंसी पॉलीगॉन
  • बार डायग्राम और पोज़ चार्ट
  • हेमिसफ़ेरेस
  • आयताकार समानांतर चतुर्भुज
  • त्रिकोणीय या चतुष्कोणीय के साथ नियमित रूप से पिरामिड
  • त्रिकोणमितीय अनुपात
  • डिग्री और रेडियन माप
  • मानक पहचान
  • पूरक कोण
  • दशमलव
  • अंश और संख्या
  • लाभ और हानि
  • छूट
  • भागीदारी व्यवसाय
  • मिश्रण और दायित्व
  • समय और दूरी
  • समय और कार्य
  • प्रतिशत के बीच संबंध
  • अनुपात और अनुपात
  • वर्गमूल
  • एवरेज
  • ब्याज
  • स्कूल बीजगणित और प्राथमिक सर्ड्स की मूल बीजगणितीय पहचान
  • रेखीय समीकरणों के रेखांकन आदि.

General Intelligence and Reasoning

जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग मैं कई प्रकार के प्रश्न होते हैं मौखिक और गैर  मौखिक आदि. ऐसे प्रश्न को हल करने के लिए एकाग्रता के साथ साथ धैर्य, बेसिक नॉलेज और सही टॉपिक का होना आवश्यक होता है.

इस टॉपिक में केवल अंदाजा लगाना ही सब कुछ नहीं होता है अंदाजे के साथ साथ सटीकता से प्रश्न को हल करने की विधि की जानकारी होना बहुत जरूरी है, रीजनिंग से सम्बंधित महत्वपूर्ण टॉपिक मेंशन किया जा रहा है. जिनपे आप विशेष ध्यान रख सकते है.

  • अनुरूपता
  • समानताएं और अंतर
  • अंतरिक्ष दृश्य
  • स्थानिक अभिविन्यास
  • समस्या समाधान
  • विश्लेषण
  • निर्णय
  • निर्णय लेने
  • दृश्य
  • स्मृति
  • भेदभाव
  • अवलोकन
  • संबंध अवधारणाओं
  • अंकगणितीय तर्क और लाक्षणिक वर्गीकरण
  • अंकगणितीय संख्या
  • श्रृंखला गैर-मौखिक श्रृंखला
  • कोडिंग और डिकोडिंग
  • कथन का निष्कर्ष
  • तर्कशास्त्रीय तर्क
  • आंकड़े का पैटर्न- तह और पूरा करना
  • अनुक्रमण
  • पता मिलान
  • दिनांक और शहर का मिलान
  • केंद्र कोड
  • रोल नंबर का वर्गीकरण
  • छोटे और बड़े अक्षर / नंबर कोडिंग
  • डिकोडिंग और वर्गीकरण
  • एंबेडेड आंकड़े
  • गंभीर सोच
  • भावनात्मक बुद्धिमत्ता आदि.

English Language Study Tips

इंग्लिश बहुत महत्वपूर्ण टॉपिक है केवल परीक्षा की दृष्टि से ही नहीं बल्कि दैनिक दिनचर्या में भी इंग्लिश की भूमिका अहम है इंग्लिश एक ऐसा विषय है जिसके माध्यम से केवल कंपीटेटिव एक्जाम ही नहीं बल्कि दैनिक जीवन को भी एक नया मोड़ दिया जा सकता है. 

SSC के लिए निम्न टॉपिक पर आपका पकड़ मजबूत होना चाहिए तभी आप SSC आसानी से क्लियर कर सकते हैं, जैसे 

  • वाक्यांश और मुहावरे
  • एक शब्द प्रतिस्थापन
  • वाक्य सुधार
  • त्रुटि खोलना
  • रिक्त स्थान भरना
  • वर्तनी सुधार
  • पढ़ना समझ
  • पर्यायवाची-विलोम
  • सक्रिय निष्क्रिय
  • वाक्य सुधार
  • क्लोज़ टेस्ट आदि.

General Awareness

सामान्य ज्ञान एक बहुत विशाल विषय है, अपना विशेष ध्यान महत्वपूर्ण विषयों पर रखें, न कि पूरे विषयों पर. यह उच्च स्कोरिंग और समय की बचत वाला विषय है.

GK सेक्शन में स्टेटिक जनरल नॉलेज एंड साइंस के प्रश्न शामिल रहते है. SSC एग्जाम में साइंस सेक्शन में बायोलॉजी, फिजिक्स, केमिस्ट्री और कंप्यूटर सेक्शन से बहुत सवाल पूछे जाते हैं. NCERT किताब से विज्ञान विषय के लिए मदद अवश्य ले क्योकि SSC की तैयारी में यह अहम् रोल अदा करता है.

इसलिए सामान्य ज्ञान से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण टॉपिक यहां दिया गया है जिसपर आपको विशेष ध्यान रखना है ताकि आप एसएससी की तैयारी अच्छे से कर सकें. जैसे,

  • इतिहास
  • संस्कृति
  • भूगोल
  • आर्थिक दृश्य
  • सामान्य नीति और वैज्ञानिक अनुसंधान
  • प्रश्न विज्ञान
  • करंट अफेयर्स
  • पुस्तकें और लेखक
  • खेल
  • महत्वपूर्ण योजनाएं
  • महत्वपूर्ण दिन
  • पोर्टफोलियो, आदि.

इसे भी पढ़े: IAS कैसे बने

SSC की तैयारी करने के विभिन्न तरीके जाने

हर काम को करने के 2 तरीके होते हैं ठीक उसी प्रकार SSC की तैयारी कैसे करे के दो तरीके होते है. पहला नॉलेज, SSC की दृष्टिकोण से और दूसरा एग्जाम के दृष्टिकोण से. दोनों तरीके पढ़ने से एक समान लग रहे हैं लेकिन मतलब और दृष्टि दोनों अलग हैं.

हमेशा शुरू से  6 महीनों तक आपको नॉलेज प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत करना चाहिए और अंत के 6 महीने में एग्जाम में टॉप करने के लिए क्वेश्चन के अनुसार पढ़ना चाहिए.

ऐसा करने से टॉपिक के साथ साथ क्वेश्चन पर भी आपका कमांड मजबूत होगा तभी आप एसएससी एग्जाम क्लियर करने योग्य होंगे. नीचे आप यह विस्तार से समझ पाएंगे.

  • एग्जाम सिलेबस और पैटर्न को समझें
  • टाइम टेबल बनाये
  • स्टडी मटेरियल कलेक्ट करें
  • कमजोर विषयों पर विशेष ध्यान दें
  • न्यूज़पेपर पढ़ें
  • इंटरनेट की हेल्प लें जैसे, YouTube, एजुकेशन वेबसाइट, ऐप आदि.
  • पिछले वर्ष के पेपर को हल करें
  • तनाव रहित रहे
  • सही रणनीति बनाए
  • रोजाना प्रैक्टिस करें

सामन्य प्रश्न: FAQs

Q. SSC के लिए कोचिंग करना जरुरी है?

SSC CGL में सफलता प्राप्त करने के लिए कोई कोचिंग आवश्यक नहीं है. आपको बस कठिन अध्ययन करना है और मात्रात्मक योग्यता, अंग्रेजी भाषा और समझ के लिए बहुत समय देना है. आप मार्गदर्शन के लिए और परीक्षा के पैटर्न और स्तर को जानने में मदद के लिए कुछ यूट्यूब चैनलों का अनुसरण कर सकते हैं, जो आज के समय में बहुत मददगार शाबित हो रहे है.

Q. CGL वेतन क्या है?

SSC CGL परीक्षा भारत में सबसे अधिक मांग वाली परीक्षाओं में से एक है और इसका एक बड़ा कारण आयोग द्वारा प्रदान किया गया वेतन है. वर्तमान एसएससी सीजीएल वेतन न्यूनतम वेतन 18,000-2,50,000 से भी भिन्न होता है. विभिन्न पदों के आधार पर .

Q. SSC परीक्षा के लिए कौन आवेदन कर सकता है?

New Update: एसएससी ने सीजीएल परीक्षा पात्रता में नए बदलाव किए हैं, 5 अगस्त, 2019 को आयोग द्वारा हल ही में जारी एक अधिसूचना के अनुसार, ‘सीबीईसी ग्रुप सी’ कैडर के तहत आने वाले कर सहायक के पद के लिए आयु मानदंड में बदलाव किया गया है. 18 – 27 वर्ष की आयु के उम्मीदवार CGL परीक्षा के लिए आवेदन करने के लिए योग्य हैं.

Q. SSC परीक्षा का उपयोग क्या है?

SSC का अर्थ है “कर्मचारी चयन आयोग”. यह एक ऐसा संगठन है जिसमे सरकारी कर्मचारी के रूप में उम्मीदवारों को चयन करने के लिए विभिन्न परीक्षाओं का आयोजन आयोजन किया जाता है. ये कुछ प्रमुख परीक्षाएं हैं जो हर साल SSC द्वारा आयोजित की जाती हैं। सभी भारतीय उम्मीदवार इन परीक्षाओं में आवेदन करने के लिए योग्य हैं.

Q. मैं SSC में टॉप कैसे कर सकता हूं?

व्याकरण के विभिन्न नियमों का अध्ययन करें, समाचार पत्र का अध्ययन करें और अपने वोकैब में सुधार करें, सभी उच्च आवृत्ति वाले शब्दों का अभ्यास करें और प्रश्नों को हल करें. उन्हें दोहराएं ताकि नियम आपके दिमाग में याद रहे. प्रैक्टिस करे Naration, वॉयस, मैथ्स, क्लोज टेस्ट आदि रीजनिंग- सीजीएल में यह सेक्शन अपेक्षाकृत आसान है.

Q. क्या SSC परीक्षा कठिन है?

SSC CGL स्नातकों के बीच सबसे प्रसिद्ध एवं थोड़ा कठिन परीक्षा है क्योंकि इसमें स्ट्रीम बैकग्राउंड की कोई सीमा नहीं है, किसी भी स्ट्रीम से, कोई भी विद्यार्थी इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकता है. इससे प्रतियोगिता बहुत कठिन हो जाती है। यह महत्वपूर्ण है कि आप समय से पहले अपनी परीक्षा की तैयारी शुरू कर दें.

Whatsapp GroupJoin
Telegram channelJoin

1 thought on “SSC की तैयारी कैसे करे – तैयारी करने का आसन तरीका”

Leave a Comment